मोदी के पक्ष में जागरूकता अभियान चलाएगा विद्यार्थी परिषद

  • मोदी के पक्ष में जागरूकता अभियान चलाएगा विद्यार्थी परिषद
You Are HereNational
Tuesday, January 21, 2014-3:18 PM

लखनऊ: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के चुनाव प्रचार अभियान को गति देने के लिए संघ परिवार की छात्र इकाई, अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (अभाविप) ने कमर कस ली है। परिषद की रणनीति के तहत संगठन के कार्यकर्ता लोकसभा चुनाव के दौरान बूथ प्रबंधन को दुरूस्त कर शत-प्रतिशत मतदान सुनिश्चित कराने की तैयारी में जुटे हैं। विद्यार्थी परिषद की इस रणनीति का खुलासा तब हुआ जब उसने अपनी मांगों को लेकर, 22 जनवरी को प्रदेश के सभी जिला मुख्यालयों और 29 जनवरी को विधानसभा के सामने धरना प्रदर्शन करने की योजना को सार्वजनिक किया।

परिषद के क्षेत्रीय संगठन मंत्री धर्मपाल ने बताया कि कार्यकर्ता प्रदेश के विश्वविद्यालयों के शैक्षणिक सत्रों में देरी, मृतप्राय पड़े प्लेसमेंट सेल, राजकीय महाविद्यालयों में शिक्षकों की कमी, सभी विश्वविद्यालयों व महाविद्यालयों में छात्र संघ के चुनाव और निजी शिक्षण संस्थानों द्वारा मनमानी शुल्क वसूली जैसे मुद्दों समेत 27 मांगों को लेकर आंदोलन करने जा रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक, आंदोलन के बहाने प्रदेश में मोदी के पक्ष में जागरूकता अभियान चलाने का बीड़ा उठाया गया है। इसीलिए इस आंदोलन को गति देने के लिए इसके पदाधिकारी देर रात तक विभिन्न विश्वविद्यालयों व महाविद्यालयों के छात्रावासों में संपर्क कर रहे हैं।

परिषद के क्षेत्रीय संगठन मंत्री धर्मपाल और सह क्षेत्रीय संगठन मंत्री मनोजकांत भी रणनीति को धार देने के उद्देश्य से पूरे राज्य का लगातार दौरा कर रहे हैं। सूत्रों की माने तो ये दोनों शीर्ष पदाधिकारी इस समय बुंदेलखण्ड के दौरे पर हैं। विद्यार्थी परिषद इसी रणनीति के तहत छह फरवरी को राजधानी लखनऊ  में अपने पूर्व कार्यकर्ताओं का सम्मेलन भी करने जा रही है।

इस सम्मेलन में परिषद के राष्ट्रीय संगठन मंत्री सुनील अंबेकर, आरएसएस के सह कार्यवाह डा. कृष्णगोपाल एवं हाल ही में विद्यार्थी परिषद से उप्र भाजपा के प्रभारी अमित शाह के सहयोगी के रूप में भाजपा में भेजे गये में सुनील बंसल के भी भाग लेने की संभावना है। बताया जाता है कि संघ परिवार ने विद्यार्थी परिषद लोकसभा चुनाव के दौरान नरेंद्र मोदी और भाजपा के पक्ष में बूथ प्रबंधन से लेकर शत-प्रतिशत मतदान कराने तक की जिम्मेदारी दी है। इसके लिए उसे युवाओं पर विशेष ध्यान देने को कहा गया है।

अपने इस जिम्मेदारी के निर्वहन हेतु विद्यार्थी परिषद 15 फरवरी से 15 मार्च तक पूरे उत्तर प्रदेश में विशेष अभियान चलायेगी। इसके अन्तर्गत परिषद बड़े शैक्षणिक संस्थानों के छात्रावासों में रह रहे दूर दराज के छात्रों को भी प्रोत्साहित करेगी और उनसे चुनाव के वक्त छुट्टी लेकर अपने घर जाकर भाजपा के पक्ष में मतदान करने की अपील करेगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You