आलाकमान के भरोसे पर खरा उतरने का प्रयास करूंगा: सचिन

  • आलाकमान के भरोसे पर खरा उतरने का प्रयास करूंगा: सचिन
You Are HereNational
Tuesday, January 21, 2014-5:04 PM

जयपुर: राजस्थान प्रदेश कांग्रेस के नवनियुक्त अध्यक्ष केन्द्रीय राज्य मंत्री सचिन पायलट ने कहा है कि प्रदेश में कांग्रेस को मजबूती के लिए बुजुर्ग नेताओं के मागदर्शन में एकजुटता से काम कर आलाकमान के भरोसे पर खरा उतरने का प्रयास करूंगा। पायलट ने राजस्थान की भाजपा सरकार को आगाह किया है कि यदि सरकार ने पार्टी कार्यकर्ता के खिलाफ बदले की भावना से कार्यवाही की तो उसका डटकर विरोध किया जाएगा और जनता की तकलीफों को दूर करने के लिए सदन में और सदन के बाहर हर संघर्ष के लिए तैयार है।

पायलट ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष का पदभार ग्रहण करने से पहले प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय के समक्ष कार्यकर्ताओं को सम्बोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि कांगे्रस की संस्कृति जनता के किसी भी फैसले को विन्रमता से स्वीकार करने की है।  पूर्व कांग्रेस सरकार ने अच्छी योजनाएं शुरू की, अच्छा काम किया लेकिन किसी कारण हम चुनाव हार गए। पायलट ने भाजपा की ओर से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेन्द्र मोदी का नाम लिए बिना उन पर निशाना साधते हुए कहा कि हम चुनाव हार जरूर गये है। लेकिन कोई यह सोचे की पार्टी का नाम मिटा देंगे तो वह गलत सोच रहे है।

कांग्रेस पार्टी को कोई मिटा नहीं सकता। कांग्रेस पार्टी राजस्थान की रूह :आत्मा: है जिसे कोई नहीं मिटा सकता। पायलट ने कार्यकर्ताओं को संगठन की ताकत बताते हुए कहा कि हम सब कंधे से कंधा मिलाकर बुजुर्ग नेताओं के मार्गदर्शन में पार्टी को आगे बढाने का काम कर सोनिया गांधी और राहुल गांधी के विश्वास पर खरा उतरने का प्रयास करेंगे। उन्होंने कहा कि यदि किसी में मनमुटाव भी है तो उन्हें दूर कर सभी को साथ लेकर संघर्ष करेंगे। वरिष्ठ नेताओं के सहयोग और मार्गदर्शन के बिना आगे नहीं बढ़ सकते।

उन्होंने कहा कि देश, प्रदेश में कुछ ऐसी ताकतें है जो धर्म और जाति के नाम पर एक दूसरे को लडाने का काम कर रही है। ऐसी ताकतों को हम एकजुटता से सबक सिखायेंगे। कांगे्रस पार्टी सभी जातियों और धर्मों को साथ लेकर काम करेंगे। पायलट ने राजस्थान की भाजपा सरकार को सचेत करते हुए कहा, ‘‘जनता के काम करेंगे तो ठीक है, जनता का अहित और नुकसान करेंगे तो सरकार को सचेत करने में पीछे नहीं हटेंगे।’’

उन्होंने राजस्थान सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि प्रतापगढ जिले में पिछले दिनों हुई सामुदायिक हिसंक घटना में सरकार को जिस तरीके की कार्रवाई की जानी चाहिए थी नहीं की गई। उन्होंने कार्यकर्ताओं की पैरवी करते हुए कहा कि कांगे्रस सदन के अंदर ओर बाहर संघर्ष करेंगे। उन्होंने कहा कि आलाकमान ने उन्हें प्रदेश अध्यक्ष पद पर और रामेश्वर डूडी को कांगे्रस विधायक दल का नेता बनाकर हम पर जो भरोसा किया है हम सब को साथ लेकर कार्यकर्ताओं और प्रदेश की जनता के विश्वास पर खरा उतरने का प्रयास करेंगे।

कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव एवं राजस्थान के प्रभारी गुरूदास कामत, राजस्थान के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष डा चन्द्रभान, राजस्थान के पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए कहा कि आलाकमान ने युवा के हाथों में प्रदेश की कमान सौंपी है। एकजुटता से काम कर उनके विश्वास पर खरा उतरने के लिए काम करेंगे। उन्होंने कहा कि सचिन पायलट को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष और रामेश्वर डूडी को कांगे्रस विधायक दल का नेता बनाकर पार्टी में एक नये युग की शुरूआत की है।

कांग्रेस विधायक दल के नेता रामेश्वर डूडी ने भी कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुए लोकसभा चुनाव में जुट जाने का आहवान किया। गुलाबी नगरी में कल देर रात से ही रूक रूक कर हो रहीं बारिश का असर भी कांग्रेस के कार्यक्रम पर नहीं पडा। सचिन पायलट समेत अन्य वक्ताओं के सम्बोधन के वक्त भी रूक रूक कर बारिश हो रही थी। अपने समर्थन में नारे लगा रहे कार्यकर्ताओं को शांत होने के लिए सचिन पायलट को खुद को अनुरोध करना पड़ा।

इससे पहले सचिन पायलट के जयपुर पहुंचने पर कार्यकर्ताओं ने जबरदस्त स्वागत किया। सांगानेर हवाई अड्डे से पायलट को जुलूस के रूप में प्रदेश कांग्रेस कार्यालय पहुंचे। कार्यकर्ताओं ने रास्ते में जगह जगह पर पायलट का स्वागत किया। उमडे कार्यकर्ताओं एवं बारिश के कारण सांगानेर से प्रदेश कांग्रेस कार्यालय के मार्ग पर यातायात रेंग रेंग कर चल रहा था।पुलिसकर्मियों को यातायात को सुचारू बनाने के लिए काफी मशक्त करनी पड़ी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You