अमावस्या स्नान से पहले संगम तट पर बढ़ेगी सुरक्षा

  • अमावस्या स्नान से पहले संगम तट पर बढ़ेगी सुरक्षा
You Are HereNational
Wednesday, January 22, 2014-2:33 PM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की प्रयागनगरी इलाहाबाद में चल रहे माघ मेले में पुलिस की तैयारियों की असली परीक्षा मौनी अमावस्या के मुख्य स्नान पर्व पर होनी है। इसके लिए अभी से सुरक्षा खाका तैयार कर लिया गया है। अमावस्या के दिन देश-विदेश से लाखों श्रद्घालुओं के स्नान के लिए पहुंचने की संभावना है। अमावस्या 30 जनवरी को है। इसके लिए 28 से 31 जनवरी तक मेला क्षेत्र में यातायात प्रतिबंधित रहेगा। मौनी अमावस्या पर विशेष सुरक्षा इंतजाम के तहत 10 क्षेत्राधिकारी और 30 अतिरिक्त दरोगाओं को भी लगाया जाएगा। फिलहाल मेला क्षेत्र को छह सर्किल में विभक्त किया गया है और छह क्षेत्राधिकारी यहां तैनात किए गए हैं। कुल 32 चौकियां बनाई गई हैं और 11 थाने हैं, मगर मौनी अमावस्या पर मेला क्षेत्र में तैनात बल दोगुना कर दिया जाएगा।

स्नान पर्व से पूर्व आतंकवाद निरोधी दस्ते (एटीएस) की एक और टीम संगम नगरी आ जाएगी। 82 सदस्यीय इस दल में 46 कमांडो भी शामिल रहेंगे। एटीएस का एक दस्ता यहां पहले से मुस्तैद है। पूरा संगम क्षेत्र एटीएस दस्ते के हवाले रहेगा। दो कंपनी रैपिड एक्शन फोर्स और नौ कंपनी पीएसी पहले से मौजूद है। पुलिस अधिकारियों के मुताबिक छह कंपनी पीएसी और आ जाने से भीड़ नियंत्रित करने सुविधा रहेगी। इलाहाबाद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक उमेश श्रीवास्तव ने कहा कि मौनी अमावस्या से दो दिन पूर्व मेला क्षेत्र में छह कंपनी अतिरिक्त पीएसी उतार दी जाएगी। स्नानार्थियों की सुरक्षा के लिए घाटों पर जल पुलिस के जवान भी मौजूद रहेंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You