सरकार की रिपोर्ट पर कोर्ट ने जताया असंतोष

  • सरकार की रिपोर्ट पर कोर्ट ने जताया असंतोष
You Are HereNational
Wednesday, January 22, 2014-10:41 PM

नई दिल्ली : नरेला स्थित सत्यवादी राजा हरिश्चंद्र अस्पताल और महर्षि बाल्मिकी अस्पताल में हृदय रोग के उपचार की सुविधाएं न होने के मामले में दिल्ली सरकार द्वारा कराई जांच पर दिल्ली उच्च न्यायालय ने असंतोष जाहिर किया है।
 
न्यायालय ने सरकार की तरफ से दायर रिपोर्ट पर असंतोष जाहिर करते हुए कहा है कि दिल्ली सरकार के स्वास्थ्य सचिव इस  मामले की जांच के लिए गठित कमेटी को निर्देश दें कि वह फिर से इन अस्पतालों का दौरा करें और अस्पतालों की असुविधाओं को  मुआयना  करें। जिसके बाद फिर से रिपोर्ट तैयार की जाए और एक सप्ताह में उसे अदालत के समक्ष दायर किया जाए।

मुख्य न्यायाधीश एन.वी.रामना की अध्यक्षता वाली खंडपीठ ने यह आदेश इस मामले में दायर जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान दिया है। अब इस मामले की सुनवाई 12 फरवरी को होगी। खंडपीठ  ने कहा कि यह टीम नरेला के दोनों अस्पतालों में जाकर पड़ताल करेगी। यह टीम अस्पतालों में हृदय रोग संबंधी दवाओं व चिकित्सकों की कमी होने और उसकी पूर्ति के उपायों संबंधी मामले की भी जांच करेगी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You