गुजरात, एमपी और महाराष्ट्र में मोदी की धाक: सर्वे

  • गुजरात, एमपी और महाराष्ट्र में मोदी की धाक: सर्वे
You Are HereNational
Thursday, January 23, 2014-11:09 AM

नई दिल्ली: एक न्यूज चैनल द्वारा गुजरात, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र में करवाए सर्वे के मुताबिक बीजेपी के पीएम इन वेटिंग नरेंद्र मोदी अपनी बढ़त बनाए हुए हैं। गुजरात की 13 सीटों, मध्य प्रदेश की 15 सीटों और महाराष्ट्र की 30 सीटों पर न्यूज चैनल ने लोगों से बात की।

गुजरात

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा)  के पीएम इन वेटिंग नरेंद्र मोदी के राज्य गुजरात में लोकसभा की कुल 26 सीटें हैं। सर्वे के मुताबिक अगर यहां अभी चुनाव होते हैं तो बीजेपी के हाथ 20 से 25 सीटें लग सकती हैं। जबकि कांग्रेस के पास 1 से 4 सीटें ही आएंगी और अन्य दल के खाते में 0 से 2 सीटें जा सकती हैं।


सर्वे में यह बात सामने आई है कि बीजेपी के पीएम इन वेटिंग नरेंद्र मोदी अपने राज्य में खासी बढ़त बनाए हुए हैं। सर्वे में जब पूछा गया कि आखिर कितने लोग बतौर मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के कामकाज से संतुष्ट हैं तो जवाब में 70 फीसदी लोगों ने कहा कि वे नरेंद्र मोदी के कामकाज से संतुष्ट हैं।

मध्य प्रदेश
मध्यप्रदेश में लोकसभा की 29 सीटें हैं और यहां हालिया हुए विधानसभा चुनाव में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का जादू भी साफ दिखा है। सर्वे के मुताबिक अगर यहां भी अभी चुनाव हो तो बीजेपी को 23 से 27 सीटें तक मिल सकती हैं। जबकि कांग्रेस को महज 2 से 5 सीटों पर ही कामयाबी मिल सकती है।


सर्वे में साफ है कि मध्यप्रदेश में लोगों को शिवराज का राज पसंद है। विधानसभा चुनावों में मिली जीत के लिए मध्यप्रदेश के लोग मोदी से ज्यादा शिवराज का करिश्मा मानते हैं। सर्वे के मुताबिक 79 फीसदी लोग मानते हैं कि मध्यप्रदेश मे जीत शिवराज सिंह चौहान की वजह से मिली। सिर्फ 4 फीसदी लोगों ने जीत का श्रे मोदी को दिया।

महाराष्ट्र
महाराष्ट्र में काफी समय से कांग्रेस और एनसीपी गठबंधन कायम है। महाराष्ट्र में लोकसभा की 48 सीटें हैं और अगर यहां से बीजेपी को कामयाबी मिलती है तो दिल्ली की राह आसान हो सकती है। सर्वे के मुताबिक अगर यहां अभी चुनाव हो तो बीजेपी और शिवसेना गठबंधन को 25 से 33 सीटें मिल सकती हैं। वहीं कांग्रेस गठबंधन को 12 से 20 सीटें मिल सकती हैं। अन्य की झोली में भी 1 से 5 सीटें आ सकती हैं। सर्वे के आधार पर देखा जाए तो कांग्रेस लिए महाराष्ट्र से अच्छी खबर नहीं है। हालांकि मुख्यमंत्री पृथ्वरीराज चव्हाण का काम संतोषजनक माना जा रहा है। सर्वे के मुताबिक 50 फीसदी लोग पृथ्वीराज चव्हाण के कामकाज से संतुष्ट हैं। वहीं 36 फीसदी लोग उनसे असंतुष्ट नजर आ रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You