आरूषि हत्याकांडः सजा के खिलाफ तलवार दम्पत्ति की अपील मंजूर

  • आरूषि हत्याकांडः सजा के खिलाफ तलवार दम्पत्ति की अपील मंजूर
You Are HereUttar Pradesh
Thursday, January 23, 2014-9:05 PM

इलाहाबादः इलाहाबाद उच्च न्यायालय के दो न्यायाधीशों की खण्डपीठ ने आज नोएडा के चर्चित आरूषि हेमराज हत्याकांड में विशेष न्यायाधीश सीबीआई गाजियाबाद द्वारा तलवार दम्पत्ति को दी गई आजीवन कारावास की सजा के खिलाफ दायर उनकी अपील को आज मंजूर कर लिया। अदालत ने आदेश दिया कि 11 मार्च तक निचली अदालत का रिकार्ड प्रस्तुत किया जाए।

सीबीआई को न्यायालय ने इस मामले में अपना पक्ष रखने को भी कहा है। यह आदेश न्यायमूर्ति वी.के.शुक्ला और न्यायमूर्ति के.एन. वाजपेयी की खण्डपीठ ने तलवार दम्पत्ति की आपराधिक अपील पर आज पारित किया। गौरतलब है कि सीबीआई अदालत ने डा. तलवार दम्पत्ति को आरूषि हत्याकांड में दोष सिद्ध ठहराते हुए गत वर्ष 26 नवम्बर को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी। नोएडा के चर्चित आरूषि मेहराज हत्याकांड की सुनवाई पूरी करने के बाद सीबीआई की अदालत ने आरूषि के पिता डा. राजेश तलवार एवं उसकी मां डा. नुपूर तलवार को आजीवन कारावास की सजा सुनाई थी तथा दोनों को आरूषि की हत्या का दोषी ठहराया था।

आरूषि की हत्या 15 मई 2008 की रात को हुई थी इसमें उनके घरेलू नौकर हेमराज की भी हत्या कर दी गई थी। दोनों की लाश तलवार दम्पत्ति के निजी आवास में मिली थी। तत्पश्चात इसकी विवेचना सीबीआई ने की थी। अपील दायर कर कहा गया है कि सीबीआई अदालत ने मुकदमे के परीक्षण के दौरान मौजूद परिस्थितिजन्य साक्ष्यों का सही तरीके से विश्लेषण नहीं किया है। कहा गया है कि अभियुक्तों के खिलाफ न तो कोई गवाह है और न ही कोई स्वतंत्र गवाह है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You