सुनंदा की मौत के बाद हाथी के विवाद में फंसे शशि थरूर

  • सुनंदा की मौत के बाद हाथी के विवाद में फंसे शशि थरूर
You Are HereNational
Thursday, January 23, 2014-9:13 PM

नई दिल्ली: पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत के बाद थरूर अब एक हाथी को लेकर नए विवाद में घिरते नजर आ रहे हैं। पारिवारिक तनाव से छुटकारा पाने के लिए थरूर पद्मस्वामी मंदिर को एक हाथी भेंट करना चाहते थे। लेकिन इससे पहले कि थरूर का हाथी मंदिर पहुंच पाता उनकी पत्नी सुनंदा पुष्कर की दिल्ली के एक 5 स्टार होटल में रहस्यमय स्थिती में मौत हो गई थी।

सुनंदा की मौत के दो दिन बाद वन विभाग के अधिकारियों ने शशि थरूर के हाथी को जब्त कर लिया है। वन विभाग के अनुसार थरूर पर आरोप है कि हाथी के साथ काफी क्रूरता बरती जा रही थी और उसे बेहद अमानवीय तरीके से ले जाया जा रहा था। थरूर के हाथी को एक ट्रक में लोहे की मोटी जंजीरों से बांधकर लादा गया और इस दौरान ना तो उसे खाना दिया गया और ना ही पीने को पानी। थरूर के हाथी को ले जा रहे लोगों ने जानबूझकर उसे भूखा-प्यासा रखा था, ताकि हाथी ट्रक पर मूत्र या शौच करके गंदगी न फैला सके।

वन विभाग के अधिकारियों ने सारे दस्तावेज जांचने के बाद हाथी को केरल भिजवा दिया है। हाथी को लखीमपुर जिले में धौलपुर गांव का भूपेन गोगोई ले जा रहा था। उसने बताया कि हाथी का नाम थुनकी है। अब इस हाथी के लिए तेजपुर वन विभाग के दस्तावेज चाहिए।

केरल के ओनम कुट्टी पिल्लई जो थरूर के प्रतिनिधि होने का दावा कर रहे हैं, उनका कहना है कि मंत्री इस हाथी को मंदिर को दान देना चाहते हैं इसलिए इसे छोड़ दिया जाना चाहिए। इस हाथी थुनकी को 4000 किलोमीटर दूर मंदिर तक पहुंचाने में अभी 7 दिन और लगेंगे।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You