जामा मस्जिद इलाके में भी सक्रिय हैं स्मैक पीने वाले

  • जामा मस्जिद इलाके में भी सक्रिय हैं स्मैक पीने वाले
You Are HereNational
Friday, January 24, 2014-12:48 AM

नई दिल्ली : खिड़की एक्सटैंशन में ड्रग्स तस्करों को शह देने का मामला आजकल चर्चा में है लेकिन राजधानी में एक नहीं कई इलाके ऐसे हैं जहां इस तरह के लोग न सिर्फ बड़ी तादात में दिखाई देते हैं बल्कि बिना किसी डर या दबाव के नशा करते रहते हैं।

पुरानी दिल्ली का जामा मस्जिद इलाका ऐसे लोगों की गिरफ्त में है। यहां स्मैकिए आए दिन इलाकों में आपराधिक वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। यहां की गलियों में खुलेआम घूमते स्मैकिये स्थानीय लोगों के लिए सिर दर्द बने हुए हैं।

जामा मस्जिद स्थित मीना बाजार मार्कीट एसोसिएशन के अध्यक्ष हाजी जमाल अहम ने बताया कि दिल्ली में सबसे ज्यादा स्मैकिए पुरानी दिल्ली के जामा मस्जिद इलाके मे हैं। ये खुलेआम पार्कों और गली कूचों में स्मैक लेते नजर आते हैं।

गश्त कर रही पुलिस भी इन्हें देखकर अनदेखा कर देती है। ये लोग नशे की लत को पूरा करने के लिए रातों को दुकानों व घरों के ताले तोड़ते हैं। राह चलते लोगों से छपटमारी व लूटपाट करते हैं। वह कई बार पुलिस थाने में भी स्मैकियों की समस्याओं को लेकर थाने में भी जा चुके हैं लेकिन पुलिस इस ओर कुछ ध्यान नहीं देती।

स्थानीय निवासी मुमताज अली का कहना है कि स्मैकियों को ड्रग्स लेते हुए देखकर छोटे बच्चों पर इसका सबसे ज्यादा असर पड़ रहा है। पुरानी दिल्ली में स्मैकियों की भरमार के चलते ड्रग्स तस्कर भी सबसे ज्याद सक्रिय हैं। यहां चरस, स्मैक, गांजा आदि ड्रग्स आसानी से मिल जाता है। जिसके चलते यहां के नौजवान भी इसकी चपेट में आ रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You