आप के सदस्यों की संख्या हुई करीब 50 लाख, दक्षिण से सीमित समर्थन

  • आप के सदस्यों की संख्या हुई करीब 50 लाख, दक्षिण से सीमित समर्थन
You Are HereNational
Friday, January 24, 2014-2:56 PM

नई दिल्ली: आम आदमी पार्टी(आप) ने दावा किया है कि उसके सदस्यों की संख्या 50 लाख तक पहुंच चुकी है। आंकड़ों से पता चलता है कि दक्षिणी राज्यों से पार्टी को कम समर्थन मिल रहा है। इस सप्ताह आप की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक, नये स्वयंसेवकों के जुडऩे के साथ उत्तर और पश्चिम भारत में सदस्यता संख्या में इजाफा हुआ है लेकिन दक्षिणी राज्यों में यह रूझान नहीं दिख रहा है।

तमिलनाडु में दो लाख सदस्य आप से जुड़े हैं जबकि कर्नाटक में 59,000 सदस्य शामिल हुए हैं जिसमें से 49,000 ने ऑनलाइन पंजीकरण कराया। केरल में करीब 40000 लोग आप के सदस्य बने हैं। पार्टी सूत्रों ने कहा कि कर्नाटक में सबसे ज्यादा बेंगलूर से समर्थन मिला है, जहां इससे बहुत ज्यादा अपेक्षा है। उन्होंने कहा कि सीमांध्र और तेलंगाना क्षेत्रों में काफी धु्रवीकृत हालात होने के कारण आंध्रप्रदेश में पार्टी को बहुत ज्यादा सफलता नहीं मिली है।

पार्टी के अनुसार सबसे ज्यादा सदस्य उत्तर प्रदेश, दिल्ली, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और हरियाणा से जुड़े हैं। उत्तरप्रदेश में पार्टी से 7.35 लाख से ज्यादा सदस्य इसके बाद दिल्ली में 3.6 लाख, महाराष्ट्र में 3.43 लाख और हरियाणा में 3.25 लाख सदस्य जुड़े हैं। पार्टी का दावा है कि गुजरात में 2.8 लाख से ज्यादा सदस्य जुड़े हैं। उत्तराखंड में 1.36 लाख और बिहार में 1.21 लाख सदस्य शामिल हैं। आप ने एक करोड़ सदस्य बनाने के लक्ष्य के साथ ‘मैं भी आम आदमी’ अभियान शुरू किया है। यह अभियान 26 जनवरी को खत्म होगा। 

पार्टी के वरिष्ठ नेता और राजनीतिक मामलों की समिति (पीएसी) के सदस्य गोपाल राय ने बुधवार को कहा था, ‘‘33,55,425 सदस्य आवेदन पत्र जमाकर सदस्य बने हैं।’’ उन्होंने कहा, ‘‘10,80,000 सदस्य पार्टी की ओर से बताए गए नंबर पर एसएमएस अथवा मिस्ड कॉल के जरिए जबकि 6,45,000 पार्टी की बेबसाइट के जरिए इसके सदस्य बने हैं।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You