‘मोदी का 56 इंच वाला बयान फासीवाद की पहचान’

  • ‘मोदी का 56 इंच वाला बयान फासीवाद की पहचान’
You Are HereNational
Saturday, January 25, 2014-10:07 AM

लखनऊ: गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी का वह बयान जिसमें उन्होंने मुलायम सिंह यादव को उत्तर प्रदेश को गुजरात बनाने के लिए छप्पन इंच की छाती रखने की चुनौती दी है, पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए प्रदेश के पूर्व महाधिवक्ता तथा युनाईटेड मुस्लिम ऑरगनाइजेशन जैसी प्रतिष्ठित संस्था के अध्यक्ष एसएमए काजमी ने नरेंद्र मोदी के इस वक्तव्य को फासीवादी रूझान की अभिव्यक्ति का खुला उदाहरण बताया है। उन्होंने कहा कि सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष के उस कथन कि वह मोदी जिनके हाथ गुजरात में इंसानियत के खून से रंगे हैं, उन्हें उत्तर प्रदेश को गुजरात नहीं बनाने दिया जायेगा, के उत्तर में नरेंद्र मोदी का यह बयान कि यूपी को गुजरात बनाने के लिए छप्पन इंच का सीना चाहिए, इस बात का खुला प्रमाण है कि नरेन्द्र मोदी अपने 2002 के कारनामों को लेकर लजित होने के बजाए गौरवान्वित होने का एलान कर रहे हैं।

काजमी ने कहा कि छप्पन इंच के सीने वाले मुख्यमंत्री अपने संरक्षण में मासूम औरतों का बलात्कार, मासूम बच् चों और बेसहारा बुजुर्गों का कत्ल कराने के कृकत्य को शौर्य नहीं मानते, बल्कि वही मुख्यमंत्री शूरवीर कहलाता है जो भारत की एतिहासिक, धार्मिक तथा धर्मनिरपेक्षता के प्रतीक के रूप में खड़ी 400 बरस पुरानी एक मासूम मस्जिद को लाखों आक्रमणकारियों के आतंक से सुरक्षित रखने का दम रखता हो। काजमी ने कहा कि छप्पन इंच के सीने में यदि दिल इतना छोटा हो कि देश की तथा गुजरात की दूसरी सबसे बड़ी आबादी वाले समुदाय के एक भी व्यक्ति को अपने राजनीतिक दल से टिकट देने का साहस न हो, वह अपनी तुलना उस व्यक्ति से कर रहा है जिसके सत्तारूढ़ दल सपा में आज भी उसी समुदाय के 40 विधायक तथा 10 मंत्री मौजूद हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You