जनलोकपाल बिल तैयार है, फरवरी में बिल पास करेंगे: केजरीवाल

You Are HereNational
Saturday, January 25, 2014-4:57 PM

नई दिल्ली:संवैधानिक पद पर रहते हुए प्रदर्शन करने के लिए आलोचनाओं का सामना कर रहे दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज कहा कि संविधान किसी मुख्यमंत्री को धरना आयोजित करने से नहीं रोकता।   रेल भवन के सामने दो दिवसीय धरना देने के लिए हो रही आलोचना पर उन्होंने कहा, ‘‘मैंने संविधान पढ़ा है, लेकिन मैंने उसमें कहीं भी यह नहीं पाया कि मुख्यमंत्री ‘धरना’ आयोजित नहीं कर सकते।’’ 

उन्होंने यह आरोप भी लगाया कि ‘‘मीडिया एक या दूसरे दल के साथ जुड़ा है और आप के बारे में नकारात्मक खबरें दे रहा है।’’ संवैधानिक पद पर रहते हुए केजरीवाल द्वारा प्रदर्शन का नेतृत्व करने का मामला उच्चतम न्यायालय के जांच के दायरे में आ गया है। शीर्ष अदालत ने मुख्यमंत्री के समर्थकों के राष्ट्रीय राजधानी के संवदेनशील क्षेत्र में गैर कानूनी रूप से जुटने की स्वीकृति देने की आलोचना करते हुए विधि प्रवर्तन एजेंसियों की आलोचना की।

केजरीवाल ने शनिवार को कहा कि जन लोकपाल विधेयक लगभग तैयार है, और इसे रामलीला मैदान में जनता के बीच अगले महीने राज्य विधानसभा के विशेष सत्र के दौरान पारित किया जाएगा। केजरीवाल ने गणतंत्र दिवस के मौके  पर छत्रसाल स्टेडियम में जनता को संबोधित करते हुए कहा,  ‘‘भ्रष्टाचार हमारी सरकार के लिए सबसे बड़ा मुद्दा है। हमें भ्रष्टाचार के खिलाफ लडऩा है। जन लोकपाल विधेयक लगभग तैयार है और फरवरी महीने में हम रामलाली मैदान में दिल्ली विधानसभा का विशेष सत्र बुलाएंगे और जनता के बीच विधेयक पारित होगा।’’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘यह विधेयक भ्रष्टाचार में शामिल लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का वादा करता है। इस कानून के अंदर भ्रष्टाचारी व्यक्ति को अपनी नौकरी गंवानी पड़ेगी और उन्हें जेल भेजा जाएगा।’’उन्होंने कहा कि कानून के पीछे का उद्देश्य लोगों को जेल भेजना नहीं, बल्कि भ्रष्टाचार को मिटाना और डर का माहौल पैदा करना है। केजरीवाल ने कहा, ‘‘मैं यह नहीं कह रहा कि दिल्ली से भ्रष्टाचार खत्म हो गया है। लेकिन मैंने सुना है और लोगों ने मुझे बताया है कि जब से हमने सत्ता संभाली है, भय की एक भावना पैदा हुई है, और यह अच्छी बात है। मैं अब कह सकता हूं कि कम से कम 20 से 30 फीसदी भ्रष्टाचार कम हुआ है।’’

दिल्ली के मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार के लिए महिलाओं की सलामती और सुरक्षा बड़ी चिंता का विषय है। केजरीवाल ने कहा, ‘‘हमने दिल्ली के मुख्य सचिव संजय कुमार श्रीवास्तव की अध्यक्षता में शुक्रवार को एक समिति गठित की है। महिलाओं की सुरक्षा के लिए एक अलग इकाई होगी। इस इकाई में सेना के सेवानिवृत जवान और होमगार्ड होंगे, जो महिलाओं की सुरक्षा सुनिश्चित करेंगे।’’
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You