देश का 65वां गणतंत्र दिवस

  • देश का 65वां गणतंत्र दिवस
You Are HereNational
Sunday, January 26, 2014-7:43 PM

नई दिल्ली: देश के 65वें गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर आयोजित समारोह में देश की सैन्य शक्ति और समृद्ध सांस्कृतिक विरासत का प्रदर्शन किया गया। 90 मिनट के इस समारोह में जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे ने मुख्य अतिथि के तौर पर गणतंत्र दिवस परेड का अवलोकन किया। न्यूनतम 9.9 डिग्री सेल्सियस के साथ यह पिछले एक दशक का सबसे ठंडा गणतंत्र दिवस था और सभी गर्म कपड़े पहने हुए थे। आकाश में बादल छाए होने के कारण आशंका थी कि आयोजन रद्द हो सकता है या हवाई प्रदर्शन स्थगित किया जा सकता है।

परेड में सेना के टैंकों, पनडुब्बी, स्वदेशी लड़ाकू विमान, सशस्त्र बलों की मार्च करतीं टुकडिय़ां, विविधरंगी झांकियां शामिल थीं। उनके साथ-साथ स्कूली बच्चे लोकनृत्य प्रस्तुत कर रहे थे। इस दृश्य को देखने के लिए बड़ी संख्या में लोग उमड़े हुए थे। समारोह की शुरुआत में प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने शहीद सैनिकों को श्रद्धांजलि अर्पित की। तीनों सेना के प्रमुखों की मौजूदगी में सिंह ने इंडिया गेट पर अमर जवान ज्योति पर पुष्प चक्र चढ़ाए। इसके बाद वह परेड के सलामी मंच के लिए रवाना हो गए।

जापान के प्रधानमंत्री शिंजो अबे राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के साथ राजपथ के सलामी मंच पर पहुंचे। वहां उनका स्वागत प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने किया। राष्ट्रपति के अंगरक्षकों ने राष्ट्रीय सलामी दी, झंडोत्तोलन किया गया और राष्ट्रगान गाया गया। इसके बाद अश्वारोही सैन्य दल, पाराशूट रेजीमेंट, सिख लाइट इंफेंट्री, मराठा लाइट इंफेंट्री ने परेड किया। सेना के परेड के साथ राष्ट्रगीतों ने भी समा बांध दी। जैसे ‘सारे जहां से अच्छा’, ‘देशों का सरताज भारत’, ‘कदम-कदम बढ़ाए जा’, ‘जय भारती’ और ‘देशों की हमने शान बढ़ाई’।

सैन्य टुकडिय़ों में महिलाओं को भी शामिल किया गया था। वायु सेना की टुकड़ी की कमांडिंग एक महिला कर रही थी, जबकि तट रक्षक टुकड़ी में कई अन्य महिलाओं के साथ-साथ दो महिला उपकमांडर थीं। पहली बार दूरदर्शन ने इंटरनेट पर परेड की लाइव स्ट्रीमिंग प्रसारित की। जिसे कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल फोन पर देखा जा सकता था। इस दौरान राजपथ पर उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी, केंद्रीय मंत्रिमंडल, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उनके पुत्र राहुल गांधी तथा पुत्री प्रियंका वाड्रा, दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित दिल्ली के लगभग सभी गणमान्य लोग उपस्थित थे।

परेड के लिए राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए और हर तरह के खतरे से निपटने के लिए जहां परेड के रास्ते में ऊंची इमारतों पर अचूक निशानेबाज जवान तैनात किए गए। वहीं आसमान से किसी संभावित खतरे को नाकाम करने के लिए विमानभेदी तोपों भी लगाई गई।

सुरक्षा व्यवस्था में दिल्ली पुलिस और अर्धसैनिक बलों के लगभग 25 हजार जवान राजधानी के चप्पे चप्पे पर निगरानी रख रहे हैं। सुरक्षा कर्मी भीड़भाड़ वाले बाजारों, रेलवे स्टेशनों, बस अड्डों और अन्य संवदेनशील संस्थानों एवं स्थलों पर खास नजर रख रहे हैं। ट्रैफिक पुलिस के 1500 अधिकारी और जवान भी परेड के मद्देनजर यातायात का प्रबंधन करने के लिए तैनात रहे।

गणतंत्र दिवस के मौके पर राजधानी में और विशेष रूप से विजय चौक से लाल किले तक परेड के आठ किलोमीटर लंबे रास्ते में धरती और आसमान की सुरक्षा के विशेष इंतेजाम किए गए हैं। एक वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी ने बताया कि परेड के पूरे रास्ते और उसके आस पास के क्षेत्रों की कई बार मेटल डिटेक्टरों और खोजी कुत्तों की मदद से छान बीन की जाएगी। पेश हैं देश के 65वें गणतंत्र दिवस की प्रमुख झलकियां..

* कृषि मंत्रालय की झांकीः खेती में सूचना संचार की झलक
* राजपथ में कर्नाटक की झांकी रही मनमोहक
* असम की झांकी भूपेन हजारिका पर रही केंद्रित
* चंडीगढ़ की झांकी में कबाड़ से बनी कलाकृति की झलक
* भू-विज्ञान मंत्रालय की झांकी अंटार्कटिका की चुनौतियों पर केंद्रित
* सेना ने राजपथ पर दिखाई हिंदुस्तान की ताकत की झलक
* राजपथ पर देश के 13 राज्यों और 5 मंत्रालयों की झांकियां
* राजपथ पर देश भर की झांकियां
* 200 नक्सलियों से लड़ते हुए शहीद हुए थे
* KLVSSHNV प्रसाद बाबू को मरणोपरांत अशोक चक्र से पुरस्कृत किया गया
* राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने झंडा फहराया
* राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी शिंजो आबे के साथ
* जापान का प्रधानमंत्री शिंजो आबे बतौर मुख्यातिथि राजपथ पहुंचे
* उप राष्ट्रपति मोहम्मद हामिद अंसारी राजपथ पहुंचे
* भारतीय प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने शहीदों को श्रद्धांजली दी


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You