बिन्नी का अनशन चला महज साढ़े तीन घंटे तक

  • बिन्नी का अनशन चला महज साढ़े तीन घंटे तक
You Are HereNational
Monday, January 27, 2014-6:10 PM

नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी के खिलाफ अनशन पर गए पार्टी से निकाले गए बागी विधायक विनोद कुमार बिन्नी ने महज साढ़े तीन घंटों में ही अपने अनशन को खत्म करने का ऐलान कर दिया। इससे पहले वह अपने पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार सोमवार को केजरीवाल सरकार के खिलाफ जंतर-मंतर पर अनिश्चितकालीन अनशन पर बैठे थे।

उन्होंने कहा कि पार्टी से निकाले जाने के बारे में उन्हें कोई लिखित सूचना नहीं मिली है। उन्होंने कहा कि केजरीवाल तो चाहते ही हैं कि सरकार गिर जाए। अनशन पर बैठने से पहले वह उपराज्यपाल नजीब जंग से मिलने के लिए पहुंचे। उन्होंने आप पर आरोप लगाया कि 10 लाख 52 हजार लोगों का विश्वास तोड़ा है। इन लोगों ने बिजली और पानी पर आप का साथ दिया था, लेकिन इस मुद्दे पर सरकार पूरी तरह से विफल रही है। 

सरकार वादों से बचना चाहती है। जब-जब कोई प्रस्ताव आएगा, मुद्दों के आधार पर सरकार को घेरेंगे।उन्होंने कहा कि मैं आम आदमी पार्टी (आप) का मोहताज नहीं हूं। जब मैं आप से जुड़ा था, उस समय मुझे पार्टी के असली चेहरे के बारे में नहीं पता था। 

आप की कथनी व करनी में भारी अंतर है। मैं पार्टी के मंच से भी कई मुद्दों को उठाता रहा हूं, लेकिन पार्टी ने हमेशा से ही तानाशाही वाला रवैया अपनाया है। मैं भाजपा और कांग्रेस में नहीं जा रहा हूं क्योंकि मैं इन दलों का विरोधी रहा हूं। मैं दो बार निर्दलीय पार्षद रह चुका हूं। मेरा मकसद लोगों की सेवा करना है और जनहित से जुड़े मुद्दों के लिए संघर्ष करता रहूंगा।भाजपा के डॉ. हर्षवर्धन ने बिन्नी का समर्थन करते हुए कहा कि विनोद कुमार बिन्नी ने महत्वपूर्ण मुद्दे उठाए हैं। आप की सरकार को उनके जवाब देने चाहिए।

 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You