अब कॉलेजों में ही छपेंगे प्रश्नपत्र

  • अब कॉलेजों में ही छपेंगे प्रश्नपत्र
You Are HereNational
Monday, January 27, 2014-10:59 PM
नई दिल्ली : दिल्ली विश्वविद्यालय में शिक्षा में सुधार और परिवर्तन को लेकर लगातार प्रयोग हो रहे है । अब शिक्षा के ढांचे  के बाद अब परीक्षा प्रणाली में बदलाव की तैयारी है। इसके लिए मई जून में होने वाली विश्वविद्यालय की सालाना परीक्षा को चुना गया है। इसबार विश्वविद्यालय इंटरनेट के माध्यम से परीक्षा के प्रश्नपत्र कॉलेजों को भेजेगा। कॉलेज खुद अपने यहां पेपर छपवाएंगे। 
 
डीयू में शिक्षा प्रणाली में बदलाव का दौर चल रहा है । इससाल से तीन वर्षीय अंडर ग्रेजुएशन कोर्स के स्थान पर चार वर्षीय ग्रेजुएशन कोर्स शुुरु किया गया है। इसके साथ ही छात्रों को लैपटॉप बांटे गए है। डीयू में टैक्नॉलोजी युक्त शिक्षा पर ध्यान दिया जा रहा है। 
 

 दिल्ली विश्वविद्यालय के कुलपति दिनेश सिंह का कहना है कि आज का युग टैक्नॉलोजी का युग है। ऐसे में शिक्षकों और छात्रों को टैक्नॉलोजी का ज्ञान होना आवश्यक है। इसी के तहत डीयू में स्टूडियों के लैक्चर भी चल रहे है। अब परीक्षा प्रणाली में बदलाव होने जा रहा है । इसबार दिल्ली विश्वविद्यालय अपने सम्बद्ध कॉलेजों को परीक्षा के प्रश्नपत्र छापकर नहीं भेजेगा।  


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You