बाल ठाकरे की सम्पत्ति विवाद मामले की सुनवाई अप्रैल तक स्थागित

  • बाल ठाकरे की सम्पत्ति विवाद मामले की सुनवाई अप्रैल तक स्थागित
You Are HereNational
Monday, January 27, 2014-11:50 PM

मुंबई : बंबई उच्च न्यायालय ने शिवसेना के पूर्व प्रमुख बाल ठाकरे की करोडो रुपये की संपत्ति विवाद मामले की सुनवाई 11 अप्रैल तक के लिए आज स्थगित कर दी। श्री ठाकरे की सम्पत्ति के बटवारे को लेकर यह विवाद भाइयों जयदेव ठाकरे और उद्धव ठाकरे के बीच है। स्वं. ठाकरे ने 2011 में अपनी वसीयत तैयार की थी जिसमें अपने सबसे बडे बेटे बिंदु माधव के परिवार और मझले बेटे जयदेव ठाकरे के नाम कोई भी सम्पत्ति नहीं की थी। बडे बेटे की सडक दुर्घटना में कई वर्ष पहले मौत हो चुकी है जबकि जयदेव और उनके पिता के बीच वैचारिक मतभेद के कारण दोनों साथ में नहीं रहते थे।

वसीयत में जयदेव की पूर्व पत्नी स्मिता के पुत्र एश्वर्य को मातोश्री का पहली मंजिल दी गयी है जबकि छोटे बेटे उद्धव ठाकरे को ऊपरी मंजिल। श्री ठाकरे ने अपने बडे बेटे के पुत्र निहार को भी कुछ नहीं दिया है। पिता की सम्पत्ति का एक धेला भी नहीं मिलने से नाराज मझले बेटे जयदेव ने वसीयत की वैधानिकता पर सवाल उठाते हएु अदालत की शरण ली है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You