समाज को महिलाओं का सम्मान करना सीखना चाहिए

  • समाज को महिलाओं का सम्मान करना सीखना चाहिए
You Are HereNational
Tuesday, January 28, 2014-11:28 PM

मुंबई: अपने सहयोगियों से अवांछित टिप्पणियों की शिकार एक महिला की याचिका पर सुनवाई करते हुए बंबई उच्च न्यायालय ने आज कहा कि समाज में यह कड़ा संदेश देने की तत्काल जरूरत है कि महिलाओं का सम्मान होना चाहिए। न्यायमूर्ति एनएच पाटिल और न्यायमूर्ति वीएल अचिलिया की खंडपीठ ने कहा, ‘‘आजीविका के लिए काम पर जाने वाली महिलाओं का सम्मान होना चाहिए। पुलिस को भी इस मुददे पर संवेदनशील बनाने की जरूरत है।’’

पीठ ने पुलिस को इस मामले में प्राथमिकी दर्ज करने और उचित तरीके से जांच करने को कहा। अदालत ने ये टिप्पणियां एक महिला की याचिका पर सुनवाई के दौरान कहीं। महिला का आरोप है कि उसे कंपनी की बस में काम पर जाते हुए सहयोगियों द्वारा अवांछनीय टिप्पणियों और इशारों का सामना करना पड़ता है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You