राहुल गांधी : कसौटी पर कितने खरे, कितने खोटे ?

  • राहुल गांधी : कसौटी पर कितने खरे, कितने खोटे ?
You Are HereNcr
Wednesday, January 29, 2014-1:23 PM

नई दिल्ली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के पहले ‘सिट डाऊन’ टी.वी. इंटरव्यू पर विशेषज्ञ उनके व्यक्तित्व और राजनेता के रूप में क्षमताओं का भी आकलन करने का प्रयास कर रहे हैं।

महिला सशक्तिकरण मंत्री हैं राहुल!
नकारात्मक पहलुओं की बात करने वाले विश्लेषकों की राय में टाइम्स नाऊ चैनल के लिए इस इंटरव्यू में अधिकांश समय राहुल गांधी सवालों से भागते हुए नजर आए। जानकारों का मानना है कि राहुल से सवाल कुछ किया जा रहा था और जवाब में वे बार-बार आर.टी.आई., मनरेगा, महिला सशक्तिकरण, युवाओं की भागीदारी बढ़ाने की बात कहते नजर आएं। उनके आलोचकों का कहना है कि राहुल को कांग्रेस प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार के रूप में प्रोजैक्ट कर रही है जबकि वे एक कैबिनेट मंत्री के स्तर का प्रभाव छोडऩे में भी विफल रहे। हां, वो महिला सशक्तिकरण मंत्री जरूर हो सकते हैं।

कुछ ने टिप्पणी की है कि राहुल के लिए इस तरह की बात कहना स्वाभाविक ही हैं क्योंकि न तो उन्हें सत्ता की भूख है और न ही उनके पास खोने के लिए कुछ है। वे नेहरू-गांधी परिवार की परंपरा को आगे बढ़ा रहे हैं और अगर वे चुनाव हार भी जाते हैं तो भी उनकी हैसियत पार्टी में जस की तस रहेगी। न ही हार से उनकी नेतृत्व क्षमताओं पर कोई फर्क पडऩे वाला है। उन्होंने खुद ही कहा भी कि अगर वे इस वंश से हैं तो ये एक ऐसा तथ्य है जिसे वे बदल नहीं सकते। दूसरे नेताओं की स्थिति ऐसी नहीं है। वे ये कहते हुए भी अच्छे लगते कि हार पर वे जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार हैं।

इसकी एक वजह ये है कि उनके सामने कोई नेतृत्व को लेकर प्रतिस्पर्धा का संकट नहीं खड़ा होगा। इसके अलावा जब भ्रष्टाचार के मुद्दे पर उनकी पार्टी के नेताओं को लेकर सवाल पूछे गए तो उनके जवाब प्रभावहीन रहे। जोश में आकर राहुल ने नरेंद्र मोदी पर गुजरात दंगों के लिए इल्जाम तो लगा दिया लेकिन जब उन्हें तथ्यों से अवगत कराया गया तो वे लडख़ड़ाते नजर आए। वे ये भी भूल गए कि मोदी के एक कैबिनेट मंत्री को दंगों में शामिल होने का दोषी ठहराकर सजा सुनाई जा चुकी है।

जब मोदी इंटरव्यू देंगे तो पता चलेगा!

इस इंटरव्यू में राहुल गांधी के बारे में सकारात्मक नजरिया रखने वालों की कमी भी नहीं है। कुछ लोगों का मानना है कि ये एक शानदार इंटरव्यू था और बातें कुछ भी पूछी गई हों लेकिन राहुल गांधी बीते दौर की ज्यादा बातें न करके आने वाले कल के प्रति अपने नजरिये को साफ करने का प्रयास करते नजर आए।

भारत में पी.एम. पद के कितने उम्मीदवार हैं जो प्राइम टाइम टीवी के लिए ऐसा साक्षात्कार देने का साहस जुटा सके हैं? यही नहीं राहुल ने इंटरव्यू के लिए भारत के सबसे आक्रामक टीवी एंकर को चुना। मीडिया के सामने अक्सर शर्मीले बने रहने वाले राहुल ने अगर अपने पहले ही इंटरव्यू के लिए मिश्रित प्रतिक्रियाएं बटोरी हैं तो ये उनकी उपलब्धि कही जानी चाहिए।

इसके अतिरिक्त यहां ये भी देखा जाना चाहिए कि राहुल के प्रतिद्वंद्वी नरेंद्र मोदी इस तरह के इंटरव्यू  में कैसा प्रदर्शन करते हैं। ये नहीं भूलना चाहिए कि कुछ साल पहले जब करण थापर ने मोदी का इंटरव्यू लिया था तो वे गिलास भर-भरकर पानी पीते नजर आए थे।  राहुल अपने इंटरव्यू में मोदी और केजरीवाल जैसे अपने प्रतिद्वंद्वियों पर सीधे-सीधे कमेंट करने से बचते रहे। जो सराहनीय है।

दिल से जवाब दिए : अरनब
ऐसा नहीं है कि इस इंटरव्यू को लेकर राहुल की परफोर्मैंस की ही समीक्षा हो रही है बल्कि टी.वी. एंकर अरनब गोस्वामी के लिए भी ये चुनौतीपूर्ण था। अरनब ने इस बारे में रेडिफ डॉट कॉम को एक इंटरव्यू भी दिया है। इसमें उन्होंने राहुल के व्यवहार को लेकर तारीफ की है। अरनब का कहना है कि उन्होंने 75-80 सवाल किए और सभी को राहुल ने कायदे से लिया।

उन्होंने दिल से जवाब दिए। जिन मामलों पर कांग्रेस घिरती नजर आई उन सवालों के भी जवाब ने जिम्मेदारी से देते नजर आए और उन्होंने इन सवालों को सीधे अपने ऊपर लिया। अरनब ने बताया कि 2007 में उन्होंने नरेंद्र मोदी का इंटरव्यू भी लिया था लेकिन उस इंटरव्यू से इसकी तुलना नहीं की जा सकती। तुलना के लिए मोदी के वर्तमान बड़े रूप में उन्हें एक इंटरव्यू और लेना होगा, तभी बात बनेगी।

वाड्रा पर सवाल नहीं
-इंटरव्यू में कहीं भी राहुल के बहनोई राबर्ट वाड्रा का नाम नहीं आया। कहा जा रहा है कि शायद इंटरव्यू से पहले ही ये शर्त रख दी गई थी।
-उन्होंने 22 बार सशक्तिकरण, 70 बार सिस्टम, 33 बार आर.टी.आई. जैसे शब्दों को दोहराया।
-महिलाओं की भूमिका के बारे में भी उन्होंने 17 बार जिक्र किया।
-इंटरव्यू के दौरान राहुल ने कुछ मामलों का जिक्र आने पर 7 बार खुद को थर्ड पर्सन बताया जो कुछ लोगों को अजीब लगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You