जिसका जन्म हुआ है, उसे एक न एक दिन मरना ही है: स्टालिन

  • जिसका जन्म हुआ है, उसे एक न एक दिन मरना ही है: स्टालिन
You Are HereNational
Wednesday, January 29, 2014-4:06 PM

चेन्नई: तमिलनाडु में द्रविड मुनेत्र कषगम (द्रमुक) के अध्यक्ष एम. करुणानिधि के छोटे बेटे एवं पार्टी कोषाध्यक्ष एम के स्टालिन ने अपने बड़े भाई एम के अलागिरि से लगातार गहराते मतभेद के बावजूद आज अपने समर्थकों से अनुरोध किया कि वे उनका पुतला नहीं जलाएं। उन्होंने कहा, ‘‘जिसका भी जन्म हुआ है, उसे एक न एक दिन मरना ही है।’’

करुणानिधि के कल एक संवाददाता सम्मेलन में यह खुलासा करने के बाद कि उनके बड़े बेटे ने छोटे बेटे के खिलाफ कठोर शब्दों का इस्तेमाल किया और कहा कि तीन-चार महीनों में उनकी मौत हो जाएगी। स्टालिन के समर्थकों ने राज्य के विभिन्न हिस्सों में अलागिरि के खिलाफ विरोध, प्रदर्शन किया और उनके पुतले जलाए। हालांकि अलागिरि ने इन आरोपों का खंडन करते हुए कहा कि इससे वह बुरी तरह आहत हुए हैं।

 स्टालिन ने यहां एक बयान जारी करके अपने समर्थकों से कहा कि वह अपने बड़े भाई की टिप्पणी को बहुत अधिक महत्व नहीं देते और उनकी  अलागिरि के बयान को जरूरत से ज्यादा बढ़ावा देने में कोई रूचि नहीं है। उन्होंने कहा, ‘‘जिसका भी जन्म हुआ है, उसे एक न एक दिन मरना ही है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You