आजम को हाईकोर्ट ने भेजा नोटिस, 4 मार्च तक देंगे जवाब

  • आजम को हाईकोर्ट ने भेजा नोटिस, 4 मार्च तक देंगे जवाब
You Are HereNational
Wednesday, January 29, 2014-4:40 PM

लखनऊ: नवाबी दौर में बने गेटों को जर्जर बताते हुए नगर पालिका द्वारा तोडऩे के मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने कैबिनेट मंत्री आजम खां व जिलाधिकारी को नोटिस भेजकर चार मार्च तक जवाब देने का आदेश दिया है। गौरतलब है कि शहर में नवाबी दौर में बने नवाब गेट को जर्जर बताते हुए नगर पालिका ने 16 नवंबर का तोड़ दिया। जिसका विरोध में धरना दे रहे कांग्रेसियों और रालोद नेताओं को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। इस घटना के बावजूद आजम खं ने किले के गेटों को भी तोड़ेने के लिए जिलाधिकारी को पत्र लिखा था। जिस पर कांग्रेस विधायक नवाब काजिम अली खां उर्फ नवेद मियां हाईकोर्ट याचिका दायर कर दी थी। तब हाईकोर्ट ने याचिका पर सुनवाई करते हुए किले के गेटों समेत नवाबी दौर में बनी इमारतें तोडऩे पर रोक लगा दी थी।

इसके बावजूद शहर में कई गेट तुड़वा दिए गए। जिस पर नवेद मियां ने हाईकोर्ट में अवमानना याचिका दायर की। इसमें स्टे के बावजूद गेटों को तोडऩे के लिए आजम व जिलाधिकारी नरेंद्र कुमार सिंह चौहान आदि को जिम्मेदार बताया। याचिका की सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति विक्रम नाथ ने कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि अदालत के 10 दिसंबर के आदेश का पालन नहीं किया गया। यह प्रथमदृष्टया अवमानना का केस बनता है। हाईकोर्ट ने इस मामले में आजम समेत सभी अधिकारियों को नोटिस भेजकर चार मार्च तक जवाब दाखिल करने के आदेश दिए हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You