निगम नियमित करेगा सफाईकर्मियों को

  • निगम नियमित करेगा सफाईकर्मियों को
You Are HereNcr
Thursday, January 30, 2014-1:09 AM
नई दिल्ली(सज्जन चौधरी): अस्थायी कर्मचारियों को स्थायी करने का मुद्दा हाथ से फिसलते देख निगम के नेता सक्रिय हो गए हैं। 1994 में स्थायी किए गए हजारों सफाई कर्मचारियों को अब निगम की ओर से नियमित किए जाने की चिट्ठी दी जाएगी, तो 1996 से 98 के बीच भर्ती हुए कर्मचारियों के नियमितीकरण के लिए नोटिफिकेशन जारी किया जाएगा।
 
गौरतलब है ठेके पर काम कर रहे कर्मचारियों द्वारा रोजाना दिल्ली की सड़कों पर धरने दिए जा रहे हैं। दिल्ली सरकार ने इन कर्मचारियों को नियमित करने के लिए एक कमेटी भी बना दी है। अब निगम में सत्ताधारी भाजपा को यह मुद्दा हाथ से फिसलता दिखा तो एक सप्ताह के भीतर सभी कर्मचारियों को नियमितीकरण की चिट्ठी देने की घोषणा कर दी 
गई है। 
 
दिल्ली नगर निगम ने एकीकृत निगम के समय 2008 में 1994 से 96 के बीच भर्ती हुए 7099 सफाई कर्मचारियों को नियमित किया था। उन्हें पिछले कई सालों से रुका हुआ एरियर भी दे दिया गया लेकिन अधिकारियों ने इस बाबत कर्मचारियों को लिखित में कोई चिट्ठी नहीं दी। जिससे कर्मचारियों को अभी तक अपने नियमित होने पर यकीन नहीं है। पिछले कई दिनों से लगातार सफाई कर्मचारी यूनियन निगम मुख्यालय सिविक सैंटर के बाहर धरने पर बैठे हैं। उनकी मांग है कि ठेके पर रखे गए सभी कर्मचारियों को नियमित किया जाए और जो पहले नियमित हो चुके हैं उनका रुका हुआ सर्टिफिकेट जल्द से जल्द दिया जाए। इसके बाद निगम ने 1996 से 98 के बीच भर्ती हुए 2889 कर्मचारियों को भी नियमित किया था, लेकिन उन्हें भी सर्टिफिकेट नहीं दिया गया। 
 
उत्तरी दिल्ली नगर निगम स्थायी समिति में पार्षद पृथ्वी सिंह राठौर ने कर्मचारियों के नियमितीकरण से जुड़ा मुद्दा उठाया था। जिसके बाद पूर्व स्थायी समिति अध्यक्ष योगेंद्र चंदोलिया ने कर्मचारियों को सर्टिफिकेट एक सप्ताह में न दिए जाने पर धरने पर बैठने की धमकी दी। इसके बाद स्थायी समिति अध्यक्ष मोहन भारद्वाज ने एक सप्ताह के भीतर सभी कर्मचारियों को सर्टिफिकेट जारी करने के 
आदेश दिए। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You