62 अवैध ट्रांसफॉर्मर पकड़े, तीन बिजली अधिकारी निलंबित

  • 62 अवैध ट्रांसफॉर्मर पकड़े, तीन बिजली अधिकारी निलंबित
You Are HereNational
Thursday, January 30, 2014-3:39 PM

राजगढ़: विद्युत वितरण कंपनी के अधिकारियों-कर्मचारियों द्वारा अवैध ट्रांसफॉर्मर लगाकर हर महीने लाखों रुपए वसूले जाने का मामला सामने आया है। वरिष्ठ अधिकारियों की जांच में अब तक 62 अवैध ट्रांसफॉर्मरों का पता चला है। इस घोटाले में तीन अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया है, जबकि दो बिजली ठेकेदारों के खिलाफ पुलिस में प्राथमिकी दर्ज कराई गई है। विद्युत वितरण कंपनी के महाप्रबंधक आर के शर्मा ने आज यहां बताया कि जिले में अधिकारियों-कर्मचारियों की सांठगांठ और ठेकेदार के साथ मिलकर अवैध ट्रांसफॉर्मर रखने का एक बड़ा मामला उजागर हुआ है।

 

उन्होंने कहा कि सैकड़ों किसानों से विद्युत वितरण कंपनी के ठेकेदारों ने ट्रांसफॉर्मर, खंभे, तार की लागत तो वसूली लेकिन कंपनी में कर जमा नहीं कराया। अधिकारियों एवं कर्मचारियों की मदद से इन अवैध ट्रांसफॉर्मरों के जरिए विद्युत देना भी शुरू कर दिया गया। इससे हर महीने कंपनी को लाखों रुपए का नुकसान हो रहा है। जांच-पड़ताल में 62 ट्रांसफॉर्मर अवैध मिले हैं। विद्युत वितरण कंपनी महाप्रबंधक शर्मा ने बताया कि जिले के खिलचीपुर के कछोटिया और बड़बेली गांव में पांच ट्रांसफॉर्मर अवैध रूप से लगे मिले हैं।

 

सुठालिया के टोड़ी गांव में 45 ट्रांसफार्मर, पाड़ल्यामाता गांव में नौ और मलावर कस्बे के तहत तीन ट्रांसफार्मर अवैध रूप से चलते पाए गए हैं। इन ट्रांसफार्मरों की राशि ठेकेदारों ने किसानों से वसूल ली है, लेकिन विभाग में जमा नहीं कराई। उन्होंने कहा कि अवैध ट्रांसफार्मर रखे जाने के मामले में विद्युत वितरण कंपनी ने खिलचीपुर के सहायक अभियंता राहुल ठाकरे, सारंगपुर के कनिष्ठ अभियंता संदीप नामदेव और पाड़ल्यामाता के लाइन निरीक्षक कंवरलाल चौहान को निलंबित कर दिया है।

 

इस मामले में संदिग्ध भूमिका के चलते ब्यावरा क्षेत्र के सहायक अभियंता उमेश प्रताप सिंह को भी विद्युत वितरण कंपनी ने आरोप पत्र दिया है। शर्मा ने बताया कि अवैध ट्रांसफार्मर मामले में किसानों से राशि वसूलने के बाद विद्युत वितरण कंपनी में कर जमा नहीं कराने वाले दो ठेकेदारों के खिलाफ कंपनी ने पुलिस थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई है। बिजली ठेकेदार नवल सिंह राजपूत के खिलाफ खिलचीपुर पुलिस थाना में धोखाधड़ी और अमानत में खयानत का मामला दर्ज कराया गया है तथा ठेकेदार महेश गुर्जर के खिलाफ मलावर और सुठालिया पुलिस थानों में मामले दर्ज कराए गए हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You