'जयपुर अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह' का आगाज 1 फरवरी को

  • 'जयपुर अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह' का आगाज 1 फरवरी को
You Are HereNational
Thursday, January 30, 2014-4:25 PM

जयपुर: विश्व पटल पर खास पहचान बना चुके जयपुर अंतर्राष्ट्रीय फिल्म समारोह का आगाज एक फरवरी को शाम 6 बजे राजमंदिर सिनेमा हाल में होगा। इस साल जिफ का उद्घाटन सत्र राजस्थान, राजस्थानी  कला और संस्कृति को समर्पित किया जा रहा है। उद्घाटन सत्र में राजश्री प्रोडक्शन्स को हिन्दी सिनेमा और उसमें राजस्थान की कला ओर संस्कृति को नई पहचान देने के लिए लाईफ टाईम अचिवमेंट अवार्ड से नवाजा जाएगा। 

समारोह के उद्घाटन सत्र में पहली फिल्म पाकिस्तान से आस्कर में आधिकारिक रूप में नामांकित फिल्म जिन्दा भाग प्रदर्शित होगी। फिल्म राजमंदिर सिनेमा में शाम लगभग 6.30 बजे से प्रदर्शित होगी।  समारोह का समापन मराठी फिल्म ट्यूरिंग  टाकिज से होगा।  ज्यूरी द्वारा कुल 28 अवार्ड विजेता फिल्म और फिल्म मेकर  को दिए जाएंगे। जिफ के संस्थापक निदेशक हनु रोज ने बताया कि जिफ 2014  की ज्यूरी में जर्मनी से फ्रेंच मिकुलस ,बांग्लादेश से तनविर मोक्कमिल , एन आर .आई फिल्म मेकर बेदाबती पेन , आस्ट्रेलिया से एंड्रयू वायल और भारत से राकेश अन्दानिया, गजेन्द्र षोत्रिय, बिजू मोहन और डा. विभूती पांडे आदि को शामिल किया गया है।

पांच दिनों तक चलने वाले इस समारोह में 90 से ज्यादा देशों से चयनित कुल 156 फिल्मों का प्रदर्शन समारोह में सुबह 10 बजे से रात 9 बजे तक लगातार जारी रहेगा। इनमें 40 फीचर फिल्में, 83 शार्ट फिक्शन, 18 डाक्युमेंट्री, 15 एनिमेशन शॉर्ट फिल्में शामिल है। इस शहर में राजस्थान से कुल 14 फिल्मों की स्क्रिनिंग की जाएगी । इनमें से 7 फिल्में गैर प्रतियोगिता की श्रेणी में है।  90 देशों से चयनित कुल 156 फिल्मों में से कुल 121 फिल्में है प्रतियोगिता के श्रेणी में है।

इस साल जिफ 2014 में 13 देशों से चयनित 13 उम्दा फिल्मों का प्रदर्शन होने जा रहा है।  ये सभी 13 फिल्में ऑस्कर 2014 में बतौर ऑफिसियल एंट्री अलग अलग देशों से भेजी गई है।लगभग 80 फीसदी फिल्मों के निर्माता निर्देशक समारोह में भाग लेने जयपुर पहुंच रहे है। जिफ के प्रवक्ता प्रसून सिन्हा ने बताया कि डायरेक्टर्स मीट, राइटर्स मीट को प्रोडक्शन मीट में अपनी अपनी विद्याओं से जुडे़ ख्यातिप्राप्त लोग अपने विचार प्रकट करेंगे।  राइटर्स मीट के चेयरपर्सन राजनीति और सत्याग्रह जैसी फिल्मों के लेखक अंजुम रजबअलि है।  यह मीट 3 फरवरी को 2.30 बजे से चैम्बर भवन में होगी।
 
उनके साथ एजेंट विनोद और जॉनी गद्दार के लेखक श्रीराम राघबन, देल्ही बेली के लेखक वर्मा, लुटेरा और उड़ान के लेखक विक्रमादित्य मोटवानी और रंग दे बसंती के लेखक कमलेश पांडे जैसे नामी लेखक भी इस मीट में मुख्य वक्ता होंगे। को.प्रोडक्शन मीट में जिफ में भाग लेने आ रहे फिल्म मेकर्स भाग लेंगे।  ये मीट 5 फरवरी को दोपहर 12.30 बजे से चेम्बर भवन में होगी। पिछले साल को.प्रोडक्शन मीट में जिफ ने फ्रांस से मार्क बाशित को आमंत्रित किया था।  जो  बाशित फिल्म लंच बॉक्स के को.प्रोडयूसर है।
 
इस साल जिफ ने फिल्म फंड से जुडे विषयों पर चर्चा के लिए मिशन इम्पोसिबल (अमेरिका केप्टन) स्पाइडरमेन जैसी फिल्मों से जुड़े ब्रिटेन में प्रोड्यूसर ए वी शंकरदास को आमंत्रित किया है। फिल्म सिटी पर चर्चा 2 फरवरी को 12 से एक बजे तक चेम्बर भवन में रखी गई है तथा स्क्रिप्ट राइटिंग वर्कशाप 4 फरवरी को चेम्बर भवन में सुबह 11 बजे से होगी।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You