गुजरात में दंगा हुआ था, दिल्ली में जनसंहार: BJP

  • गुजरात में दंगा हुआ था, दिल्ली में जनसंहार: BJP
You Are HereNational
Thursday, January 30, 2014-4:52 PM

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने गुजरात के दंगों को 1984 के सिख दंगों से कमतर आंकते हुए आज कहा कि गुजरात में जो हुआ वह दंगा था जिसमें दो तरफा कार्रवाई हुई लेकिन दिल्ली में जो हुआ वह दंगा नहीं जनसंहार था जिसमें एकतरफा कार्रवाई में निर्दोष लोग मारे गए।

भाजपा के प्रवक्ता प्रकाश जावडेकर ने यहां पार्टी की नियमित ब्रीफिंग में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बयान के विरोध में सिख समुदाय के कांग्रेस कार्यालय पर प्रदर्शन को सही ठहराते हुए कहा कि इस घटना के 30 वर्ष बाद भी यदि 3 लोगों को भी सजा नहीं मिलती है तो पीड़ितों की भावना को समझा जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने झूठ बोला है कि सरकार ने दंगों को रोकने की कोशिश की। यह कार्रवाई एकतरफा और कांग्रेस प्रायोजित थी।

सवालों के बीच गुजरात और दिल्ली के दंगों की तुलना करते हुए उन्होंने गुजरात दंगों को कमतर आंकने की कोशिश की। उन्होंने कहा, ‘‘गुजरात की कथा ही अलग है। गुजरात में सुरक्षा बलों ने दस हजार राउंड गोली चलाई जबकि दिल्ली में एक भी गोली नहीं चलाई गई। गुजरात में 199 दंगाई पुलिस की गोलियों का निशाना बनें जबकि दिल्ली में लाठी भी नहीं भांजी गई।’’ उन्होंने कहा कि तीन दिन तक सेना को भी नहीं बुलाया गया।

जावडेकर ने कहा कि दिल्ली में दंगे नहीं हुए बल्कि यह जनसंहार था जिसका खुद तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने समर्थन किया। प्रधानमंत्री ने विज्ञान के विपरीत दलील दी थी। विज्ञान कहता है कि धरती हिलती है तो पेड़ गिरते हैं जबकि प्रधानमंत्री ने कहा कि बड़ा पेड गिरता है तो धरती हिलती है। प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस और उसकी सरकार को 1984 के दंगों का जवाब देना ही होगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You