हाई कोर्ट ने कहा, सीबीआई बताए कितने केस हुए दर्ज,कितने बंद किए

  • हाई कोर्ट ने कहा, सीबीआई बताए कितने केस हुए दर्ज,कितने बंद किए
You Are HereNational
Friday, January 31, 2014-12:45 AM
नई दिल्ली : सिख दंगा मामले में उम्रकैद की सजा पाए पूर्व पार्षद की जमानत याचिका पर सुनवाई करते हुए दिल्ली उच्च न्यायालय ने सी.बी.आई से पूछा है कि वह बताए कि अब तक सिख दंगों के मामलों में कितने केस दर्ज किए गए हैं और कितने केस पुलिस बंद कर चुकी है। वहीं कितने मामलों में आरोपी बरी हो चुके हैं। यह सब सूचनाएं अदालत को जितनी जल्दी संभव हों उपलब्ध कराई जाएं।
 
न्यायमूर्ति  पी.के. भसीन व न्यायमूर्ति जे.आर.मिढा की खंडपीठ ने आरोपी बलवान खोखर की जमानत याचिका पर सुनवाई 12 मार्च तक के लिए टाल दी है।खंडपीठ ने सी.बी.आई से यह भी पूछा है कि जिन मामलों में आरोपी बरी हो चुके हैं,उनमें राज्य सरकार ने अपील क्यों दायर नहीं की। इस पर सी.बी.आई के वकील ने कहा कि उन मामलों की जांच पुलिस ने की थी, सी.बी.आई ने नहीं।
 
खोखर, गिरधारी लाल व कैप्टन भागमल को निचली अदालत ने पिछले साल मई माह में उम्रकैद की सजा दी थी। जबकि दो अन्य महेंद्र यादव व किशन खोखर को तीन-तीन साल कैद की सजा दी थी।
 
इस मामले में कांग्रेसी नेता सज्जन कुमार को बरी कर दिया गया था। इन सभी पर आरोप था कि दिल्ली कंटोनमेंट राज नगर गुरूद्वारे के पास एक नवम्बर 1984 को इन्होंने पांच सिखों की हत्या कर दी थी। गौरतलब है कि सिख दंगा मामले में इस समय हंगामा मचा हुआ है और इस मामले में नए सिरे से जांच कराए जाने की मांग हो रही है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You