फैवरेट बनी उत्तर पूर्वी दिल्ली सीट

  • फैवरेट बनी उत्तर पूर्वी दिल्ली सीट
You Are HereNational
Friday, January 31, 2014-1:34 AM

नई दिल्ली(सतेन्द्र त्रिपाठी): उत्तर पूर्वी दिल्ली संसदीय सीट इस बार भाजपा नेताओं के लिए हॉट फैवरिट बनी हुई है। दिल्ली की सातों सीटों में से यह सीट जीत के लिहाज से एकदम पक्की मानी जा रही है। इस सीट पर टिकट के दावेदारों में भी कई दिग्गज मैदान में है। इनमें भाजपा के राष्ट्रीय नेता, 2 विधायक, एक पूर्व सांसद भी शामिल है।

दिलचस्प बात यह भी है कि इस सीट के शिव सेना के पूर्व दमदार नेता भी यहां से टिकट की दौड़ में हैं। वैसे पिछली बार यह सीट कांग्रेस के जय प्रकाश अग्रवाल ने 2 लाख से अधिक वोटों से जीती थी। 

पिछले लोकसभा चुनाव में जयप्रकाश अग्रवाल ने 5,18,191 वोट हासिल किए थे। भाजपा के बी.एल. शर्मा प्रेम को 2,95,948 हासिल हुए थे। बसपा के हाजी दिलशाद को 44111 वोट मिले थे। अब इस सीट के टिकट दावेदारों पर नजर डालें तो राष्ट्रीय मंत्री श्याम जाजू की स्थिति अच्छी नजर आ रही है। वह राष्ट्रीय नेताओं की पसंद के कारण टिकट पा सकते हैं।

इस सीट के रोहताश नगर इलाके में रहने वाले शिव सेना उत्तर भारत के प्रमुख के तौर पर दिल्ली में अपनी अलग पहचान बनाने वाले जयभगवान गोयल को भी बेहद मजबूत उम्मीदवार माना जा रहा है। उन्होंने फिलहाल राष्ट्रवादी शिव सेना के नाम से अपना संगठन बना रखा है। इस संगठन के लोग इस सीट पर अच्छी तादात में है। 2 बार सांसद रह चुके लाल बिहारी तिवारी भी लगातार रेस में है। इनके अलावा विधायक नरेश गौड़ व पवन शर्मा दौड़ में है। तीनों इस सीट पर ब्राह्मणों की संख्या अच्छी होने के कारण अपना दावा जता रहे हैं। श्री तिवारी पूर्वांचल के नाम पर यहां से दिल्ली सरकार में मंत्री भी रहे हैं। 

दिल्ली विधानसभा के 2013 में हुए चुनावी समीकरण भाजपा को अपने पक्ष में दिखाई पड़ रहे हैं। 10 विधानसभा सीटों में से 5 पर भाजपा जीती हुई। इनमें घौंडा, करावल नगर, रोहताश नगर, बाबरपुर व गोकलपुरी शामिल है। 5 हारी हुई सीटों में से भी 4 पर भाजपा दूसरे नंबर रही थी। केवल सीमापुरी सीट पर भाजपा तीसरे स्थान पर रही। 3 सीटे बुराड़ी, तिमारपुर व सीमापुरी आप पार्टी के खाते में है। 

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You