गुजरात सरकार आदिवासियों की बुनियादी जरूरतों की कर रही अनदेखी

  • गुजरात सरकार आदिवासियों की बुनियादी जरूरतों की कर रही अनदेखी
You Are HereNational
Friday, January 31, 2014-10:46 AM

नई दिल्ली: गुजरात में बिजली मीटरों को लेकर प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं पर कथित पुलिस कार्रवाई के मुद्दे को उठाते हुए केंद्र सरकार के एक मंत्री ने राष्ट्रीय महिला आयोग से हस्तक्षेप करने को कहा है। सड़क, परिवहन और राजमार्ग राज्यमंत्री तुषार ए चौधरी ने राष्ट्रीय महिला आयोग की अध्यक्ष ममता शर्मा को पत्र लिखकर कहा है, ‘‘गुजरात में व्यारा के कलेक्टर के भद्दे व्यवहार के बारे में आपको अवगत कराते हुए मुझे दुख हो रहा है जिन्होंने बिजली के मीटर को लेकर वैध मांगों के साथ शांतिपूर्ण प्रदर्शन कर रहीं महिलाओं पर लाठी चार्ज का आदेश दिया।’’

व्यारा एक आदिवासी बहुल क्षेत्र है। प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व करने वाले मंत्री ने आरोप लगाया कि इन आदिवासियों की बुनियादी जरूरत की गुजरात सरकार ने अनदेखी की। केंद्र सरकार प्रायोजित राजीव गांधी ग्रामीण विद्युतीकरण योजना को राज्य सरकार लागू करती है। योजना में गांवों में गरीब ग्रामीणों और आदिवासियों को निशुल्क बिजली कनेक्शन का प्रावधान है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You