कश्मीर में चिल्लई कलां खत्म लेकिन सर्द हवाओं से राहत नहीं

  • कश्मीर में चिल्लई कलां खत्म लेकिन सर्द हवाओं से राहत नहीं
You Are HereNational
Friday, January 31, 2014-2:36 PM

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर की कश्मीर घाटी और लद्दाख क्षेत्र में चिल्लई-कलां का मौसम आज खत्म होने के बावजूद अधिकतर जगहों पर न्यूनतम तापमान में गिरावट होने से सर्द हवाओं से कोई राहत नहीं मिली। 40 दिनों के चिल्लईकलां के मौसम को सबसे सर्द समय माना जाता है।
 
चिल्लई-कलां के इस बार के मौसम में घाटी में दो बार भीषण बर्फबारी हुई। मौसम शुरू होने के पहले ही दिन बर्फबारी हुई थी। राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में न्यूनतम तापमान शून्य से 3.3 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया। इससे पिछली रात यह शून्य से 3.4 डिग्री सेल्सियस कम था।

मौसम विभाग के अधिकारियों ने यहां बताया कि काजीगुंड में न्यूनतम तापमान शून्य से 9.4 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया जो इससे पिछली रात के तापमान से दो डिग्री कम है। दक्षिण कश्मीर के कोकरनाग में न्यूनतम तापमान शून्य से 10.6 डिग्री सेल्सियस कम, पर्यटन स्थल पहलगाम में शून्य से 11.2 डिग्री सेल्सियस कम दर्ज किया गया।
 
वहीं गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान करीब 5 डिग्री सेल्सियस बढ़कर शून्य से 6.4 डिग्री सेल्सियस कम रहा। इससे पिछली रात यहां तापमान शून्य से 12.0 डिग्री सेल्सियस कम था। उत्तर कश्मीर के कुपवाड़ा में न्यूनतम तापमान शून्य से 0.6 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। लद्दाख के लेह में न्यूनतम तापमान शून्य से 12.8 डिग्री सेल्सियस कम रहा। इससे पिछली रात यह शून्य से 12.7 डिग्री सेल्सियस कम था। मौसम विभाग के अनुसार राज्य इस सप्ताहांत में पश्चिमी विक्षोभ से प्रभावित रहेगा। घाटी में 2 से 6 फरवरी के बीच पश्चिमी विक्षोभ का प्रभाव रहेगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You