टैक्स कलेक्शन में गिरावट से सकते में दिल्ली सरकार

  • टैक्स कलेक्शन में गिरावट से सकते में दिल्ली सरकार
You Are HereNational
Friday, January 31, 2014-9:31 PM

 नई दिल्ली : दिल्ली सरकार के टैक्स कलेक्शन में नौ महीने के दौरान कमी हुई है । नौ माह में करीब तीन हजार करोड़ रुपये टैक्स कलेक्शन कम हुआ है। टैक्स कलेक्शन घटने से पुरानी सरकार के कुछ काम रोके जा सकते हैं। 

 मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की अध्यक्षता में बुधवार रात तक चली बैठक में यह तथ्य सामने आए हैं कि वैट, राजस्व विभाग के अलावा आबकारी और परिवहन विभाग भी लक्ष्य के हिसाब से टैक्स कलेक्शन नहीं कर पाए हैं।
 
सालाना कर व अन्य तरह का 30.6 हजार करोड़ रुपये राजस्व सरकार को मिलने का अनुमान रखा गया था, लेकिन दिसंबर 2013 तक सिर्फ 17,400 करोड़ रुपये मिले हैं। सरकार को अब चिंता सता रही है कि पिछले वर्ष मिले 23.9 हजार करोड़ के राजस्व को भी पूरा करना मुश्किल होगा। ऐसे में बिजली और पानी की सब्सिडी देने को सरकार कुछ प्रोजेक्ट रोक सकती है।
 
दिल्ली सरकार की योजनाओं का खर्र्च 16 हजार करोड़ रुपये का है। इसके तहत तमाम प्रोजेक्ट के लिए पैसे स्वीकृत थे। कई ऐसे प्रोजेक्ट हैं जिनकी कोई खास जरूरत नहीं है। सूत्र बताते हैं कि मुख्यमंत्री ने ऐसे प्रोजेक्ट को रोकने की बात कही है।
 
बैठक में शामिल दिल्ली सरकार के अधिकारी बताते हैं कि मुख्यमंत्री ने 31 मार्च तक जहां टैक्स कलेक्शन बढ़ाने को कहा है। बता दें कि निर्धारित बजट की पचास फीसदी राशि ही अभी तक खर्च हो सकी है। क्योंकि पहले विधानसभा चुनाव के कारण तीन महीने काम नहीं हुए।
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You