मोदी कर रहे है औद्योगिक घरानों के हितों की राजनीति: कारत

  • मोदी कर रहे है औद्योगिक घरानों के हितों की राजनीति: कारत
You Are HereNational
Friday, January 31, 2014-9:34 PM

हिसार: हरियाणा के हिसार जिले में भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) की पोलित ब्यूरो सदस्य और राज्यसभा सांसद बृंदा कारत ने कहा है कि नरेंद्र मोदी की राजनीति गरीब के हितों में न होकर हमेशा कॉरपोरेट घराने के हितों की रही है। हिसार में आज सीपीआई की तरफ से आयोजित राज्य स्तरीय महिला अधिकार सम्मेलन में पत्रकारो से बात करते हुए श्रीमती कारत ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर भी अपराधियों को बढ़ावा देने के आरोप लगाए।

सीपीआई नेता का मानना है कि देश को अब सरकार बनाने के लिए राजनीतिक विकल्प के रूप में वामपंथी दलों का समर्थन करना चाहिए। श्रीमती करात ने कहा कि उनका राजनीतिक मॉडल देश कभी भी स्वीकार नहीं कर सकता। उनकी दुनिया चौपाल की राजनीति न होकर कॉरपोरेट दुनिया है। उन्होंने कहा कि मोदी की दुनियां चाय वालों जैसे गरीबों की दुनिया न होकर कॉरपोरेट घरानों की दुनिया है। उनका गुजरात मॉडल असमानता से भरा हुआ है और गरीबों को उसमें नजरअंदाज किया गया है।

वहीं संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार पूरी तरह से भ्रष्टाचार में डूबी हुई है और महंगाई बढाने में इसे सरकार का महत्वपूर्ण रोल रहा है। अपराधियों को तृणमूल कांग्रेस के झंडे के नीचे खुले रूप से अपराध करने की छूट दी गई है और यहां तक कि पार्टी के मंच पर बडे अपराधियों को जगह दी जाती है। तृणमूल की सरकार में पश्चिम बंगाल में अपराधिकरण बढा है। महिलाएं सुरक्षित नहीं है और इसमें आदिवासी समाज का कोई रोल नहीं है।

अपराधियों को केवल इसी ने बढावा दिया है। सीपीआई नेता का मानना है कि केद्र में सरकार का विकल्प अब वामपंथी दल है और भाजपा-कांग्रेस या आप पार्टी को मतदाता मौका नहीं देंगे। लोकसभा चुनाव के पास आते जा रहे समय के चलते अब सभी राजनीतिक दलों ने अपने.अपने मुद्दे जोर-शोर से उठाने शुरू कर दिए है। अब जल्द ही देश की जनता के सामने सभी पार्टियों के नेता वोट मांगते नजर आएंगे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You