मुख्यमंत्री की चेतावनी से बेपरवाह बिजली कंपनियां, बढ़ाए बिजली के दाम

  • मुख्यमंत्री की चेतावनी से बेपरवाह बिजली कंपनियां, बढ़ाए बिजली के दाम
You Are HereNational
Friday, January 31, 2014-11:06 PM
नई दिल्ली : मुख्यमंत्री की  चेतावनी से बेपरवाह दिल्ली की बिजली नियामक ने शुक्रवार शाम को ऐलान किया कि बीएसईसी द्वारा वितरित बिजली के लिए उपभोक्ताओं को आठ फीसदी अधिक भुगतान करना होगा।
 
 गौरतलब है कि मध्य और पूर्वी दिल्ली में शनिवार से दिन भर के लिए बिजली कटौती की चेतावनी को भले ही मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने बिजली वितरण कंपनियों की ब्लैकमेलिंग करार दिया हो, बिजली वितरण का काम देखने वाली तीन निजी कंपनियों पर अपने बही खातों में गड़बड़ी कर फर्जी घाटा दिखाने का आरोप लगाते हुए केजरीवाल ने इस कंपनियों के लाइसेंस रद्द करने की चेतावनी दी थी। लेकिन बिजली कंपनियां मुख्यमंत्री की चेतावनी से बेपरवाह ही नजर आ रही है।
 
 पूर्वी दिल्ली में बिजली सप्लाई करने वाली कंपनी बीएसईएस यमुना ने पैसे की कमी का हवाला देते हुए शनिवार से 10 घंटे की कटौती की बात कही है। कंपनी ने दिल्ली सरकार को  कहा कि बिजली की दरें काफी कम होने से उसके पास बिजली खरीदने तक के पैसे नहीं हैं।
 
इस समय दिल्ली में वितरण का काम टाटा समूह और अनिल अंबानी समूह की कंपनियों के पास है। अनिल अबानी के नेतृत्ववाली रिलायंस इंफ्रा के सहयोग से चलने वाली बीएसईएस ने दिल्ली सरकार को आगाह किया है कि धन की कमी के मद्देनजर वह शनिवार से आठ से 10 घंटे की बिजली कटौती कर सकती है।
 
 
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You