मोदी की रैली के लिए प्रशासन ने कसी कमर

  • मोदी की रैली के लिए प्रशासन ने कसी कमर
You Are HereNational
Saturday, February 01, 2014-10:47 AM

मुजफ्फरनगर: भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार और चुनाव अभियान समिति के संयोजक नरेंद्र मोदी की दो फरवरी को मेरठ में प्रस्तावित रैली को लेकर जिला प्रशासन पूरी तरह से सक्रिय हो गया है। खुद जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक पूरे जिले में नाकेबंदी के साथ ही रैली में जनपद से रवाना होने वाले भाजपाईयों तथा ग्रामीणों को रवानगी और वापसी के दौरान पर्याप्त सुरक्षा उपलब कराने और शहर को पूरी तरह से सील कर देने की व्यवस्था पर कड़ी नजर रखे हैं। जनपद को विभिन्न सैक्टरों में विभाजित करते हुए सैक्टर मजिस्ट्रेटों को अपने अपने क्षेत्रों में अराजक तत्वों पर नजर रखने और रैली के दिन सुबह से रात्रि तक पूरी चौकसी बरतने के निर्देश दिये गये हैं। इसके लिए भाजपा रैली में रवाना होने वाले पार्टी कार्यकर्ताओं और ग्रामीणों के वाहनों के लिए विशेष रूट डायवर्जन प्लान किया गया है। इसके तहत वाहनों को शहरी सीमा के अन्दर प्रवेश ना देकर बाहर-बाहर बाईपास से ही मेरठ की  ओर भेजने की तैयारी की है।

सात सितम्बर 2013 को जानसठ क्षेत्र के नंगला मंदौड़ में इण्टर कॉलेज में हिन्दू सम्मान बचाओ महापंचायत में उमड़ी भारी भीड़ के वापस लौटते समय  कई स्थानों पर हुए हमलों के बाद जनपद में भयावह हिंसा भड़क उठी थी, इस हिंसा में सैंकड़ों लोग मारे गये और काफी घायल हुए थे। इसी से सबक लेते हुए अब जिला प्रशासन कोई भी चूक नहीं करना चाहता है। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा के निर्देशन में मेरठ रैली को लेकर चल रही तैयारियों को लेकर अपर जिलाधिकारी प्रशासन डा० इन्द्र मणि त्रिपाठी ने बताया कि जनपद की सभी सीमाआ को सील कर दिया गया और अन्य राज्यों एवं जिलों से मिलने वाली सीमाओ पर कड़ी चौकसी बरती जा रही है। उन्होंने बताया कि पुलिस प्रशासन मेरठ रैली को लेकर सुरक्षा-व्यवस्था पर जोर दे रहा है। ग्रामों में प्राानों के साथ ही दस-दस लोगों की समितियों का गठन किया गया है।

यह समितियां अपने क्षेत्रों से निकलने वाल वाहनों के जाने और आने के दौरान पूरी तरह से चौकसी बरतेंगी और यह सुनिश्चित किया जायेगा कि रैली में जाने वाले लोगों के साथ कोई भी अप्रिय घटना घटित ना होने पाये। उन्होंने बताया कि सुरक्षा बंदोबस्तों के साथ ही रैली में जाने वाले लोगों के वाहनों के लिए विशेष रूट डायवर्जन किया गया है। इन वाहनों को शहरी सीमा में प्रवेश प्रतिबंधित रहेगा और वाहनों को बाहर-बाहर ही बाईपास से मेरठ की ओर रवाना किया जायेगा ताकि शहरी व्यवस्था पर अनावश्यक दबाव ना बन पाये। इसके लिए जनपद और आसपास के जनपदों से आने वाले वाहनों के लिए सात अलग अलग स्थानों से रूट डायवर्जन लागू किया गया है। इसके लिए बघरा, शामली की ओर से आने वाल वाहन बुढ़ाना रोड से बाईपास होते हुए मेरठ जायेंगे। थानाभावन, चरथावल से आने वाले वाहन दोडू-पीनना होते हुए बाईपास से ही मेरठ रवाना होंगे। सहारनपुर देवबन्द से आने वाले वाहनों को रामपुर तिराह से बाईपास के रास्ते मेरठ के लिए भेजा जायेगा।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You