बिजली कंपनियां बताएं पैसा कहां गया: अरविंद केजरीवाल

You Are HereNational
Saturday, February 01, 2014-2:03 PM

नई दिल्ली: बिजली कंपनियों द्वारा कोष की कमी का हवाला देते हुए बिजली कटौती की घोषणा की आलोचना करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज कहा कि बिजली कंपनियों पर कैग रिपोर्ट में सब सच सामने आ जाएगा। केजरीवाल ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘‘वे कह रहे हैं कि उनके पास पैसा नहीं है तो उनका पैसा कहां हैं।

कैग उनके पैसे का पता लगा रहा है और कैग रिपोर्ट में सब सच सामने आ जाएगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘कैग रिपोर्ट के बाद हमें पता चल जाएगा कि सच में वे वित्तीय संकट का सामना कर रहे हैं कि नहीं।’’  आज से 8-10 घंटे की बिजली कटौती की घोषणा पर बिजली कंपनियों के खिलाफ क्या दिल्ली सरकार कदम उठाएगी इस पर उन्होंने कहा, ‘‘कैग रिपोर्ट आने दीजिए और इसके तथ्यों के आधार पर हम आगे बढेंगे।’’

केजरीवाल ने कल बीएसईएस बिजली कंपनी पर दिन में 10 घंटे तक बिजली कटौती की चेतावनी पर ब्लैकमेल करने का आरोप लगाया था और आगाह किया कि लाइसेंस रद्द करने सहित कड़ा कदम उठाया जाएगा। मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि टाटा और अंबानी ही देश में बिजली वितरण का काम नहीं करते हैं। सरकार अन्य कंपनियों को भी प्रवेश देने की इच्छुक है।

गौरतलब है कि इस समय दिल्ली में वितरण का काम टाटा समूह और अंबानी समूह की कंपनियों के पास है। रिलायंस इन्फ्रा के सहयोग से चलने वाली बीएसईएस ने दिल्ली सरकार को आगाह किया है कि धन की कमी के मद्देनजर वह कल से आठ से 10 घंटे की बिजली कटौती कर सकती है।

इस संबंध में केजरीवाल ने कहा था, ‘‘बिजली कटौती की कोई वजह नहीं है। मैं उन्हें चेतावनी देना चाहता हूं कि यदि वे भविष्य में भय पैदा करने की कोशिश करते हैं तो सरकार उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई करेगी।’’ बड़ी बिजली कटौती की कोई भी वजह खारिज करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि दिल्ली की वितरण कंपनियों के बही-खाते बहुत से सवालों के घेरे में हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You