केजरीवाल के आने से पहले एन.डी.एम.सी. ने पालिका केंद्र की लिफ्ट से वीआईपी लिखी प्लेट हटाई

  • केजरीवाल के आने से पहले एन.डी.एम.सी. ने पालिका केंद्र की लिफ्ट से वीआईपी लिखी प्लेट हटाई
You Are HereNational
Saturday, February 01, 2014-8:19 PM
नई दिल्ली : मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के वीआईपी कल्चर के विरोध के चलतेके  एन.डी.एम.सी. ने पालिका केंद्र की उस लिफ्ट से वीआईपी लिखी हुई प्लेट हटा दी, जिसका एनडीएमसी के अध्यक्ष समेत वरिष्ठ अधिकारी और सदस्य इस्तेमाल करते हैं।
 
 हलांकि इस बारे में केजरीवाल को कुछ पता नहीं था। अधिकारी उन्हें उसी लिफ्ट से ऊपर ले गए और वापस लाए। पालिका केंद्र में केजरीवाल के आने की खबर मिलने पर सभी  एन.डी.एम.सी. कर्मचारियों में जबरदस्त उत्साह था। उनकी झलक पाने के लिए डेढ़ बजे ही कर्मचारी भूतल पर पहुंचने शुरू हो गए थे। दो बजे तक स्वागत कक्ष के सामने लोगों के खड़े होने के लिए जगह नहीं बची।
 
पहली बार पालिका केंद्र आए केजरीवाल ने भी कर्मचारियों को निराश नहीं किया। वे सीधे लिफ्ट के पास जाने की बजाय स्वागत कक्ष के सामने गाड़ी से उतर गए। उन्होने सबसे पहले कर्मचारियों से हालचाल पूछा और फिर हाथ मिलाया।
 
कर्मचारियों में उनसे हाथ मिलाने की होड़ लग गई। सबने तालियों से उनका स्वागत किया और मोबाइल से फोटो खींचे। करीब पांच मिनट तक कर्मचारियों के बातें सुनने के बाद वे बैठक में चले गए।
 
केंद्रीय गृह मंत्रालय से एनडीएमसी के सदस्य बनाए जाने की अधिसूचना जारी होने के बाद मुख्यमंत्री करीब दो बजे पालिका केंद्र में पहुंचे, जबकि उनके साथी विधायक सुरेंद्र कुमार कुछ देर पहले ही पहुंच गए थे। बैठक में शपथ लेने के बाद केजरीवाल ने सभी अधिकारियों को अपनी पार्टी के एजेंडे से अवगत कराया।
 
उन्होंने अधिकारियों से आग्रह किया कि वे देश को भ्रष्टाचार मुक्त करने में उनका साथ दें। इस दौरान जलज श्रीवास्तव ने मुख्यमंत्री को एनडीएमसी की कार्यप्रणाली और विभिन्न गतिविधियों की जानकारी दी।
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You