राहुल की योजना से सिब्बल को ऐतराज

  • राहुल की योजना से सिब्बल को ऐतराज
You Are HereNational
Saturday, February 01, 2014-11:32 PM
नई दिल्ली : कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी की कम से कम 15 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों में पार्टी प्रत्याशियों के चयन के लिए अमरीकी राष्ट्रपति के चुनाव की तरह प्राइमरी चुनाव करवाने की योजना से गम्भीर समस्याएं पैदा हो गई हैं। 
 
कपिल सिब्बल और कृष्णा तीरथ जैसे 2 केंद्रीय मंत्रियों ने  उनके लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र में पार्टी टिकट अलाट किए जाने से पूर्व ही जनमत संग्रह के जरिए लोगों की राय प्राप्त करने के इस  तथाकथित ‘क्रांतिकारी ढंग’ के खिलाफ बगावत कर दी है। ये मंत्री इससे खुद को अपमानित महसूस कर रहे हैं। उन्हें इस बात को लेकर दुख है कि उनके निर्वाचनक्षेत्र में चयन से पूर्व कोई मापदंड नहीं अपनाया गया। बताया जाता है कि गुस्से में सिब्बल ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के  समक्ष अपना रोष व्यक्त किया जो राहुल गांधी की कार्यशैली के खिलाफ विद्रोह का झंडा बुलंद होना समझा जाता है।
 
 यह मालूम नहीं हो सका कि सिब्बल ने निजी तौर पर यह रोष व्यक्त किया या किसी दूत के जरिए व्यक्त किया है। नतीजा यह हुआ कि इस प्रक्रिया को रोक दिया गया है। अखिल भारतीय कांग्रेस के महासचिव और दिल्ली मामलों के प्रभारी शकील अहमद ने एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You