मोदी सरकार ने कहा, रोज 11 रुपए कमाने वाला गरीब नहीं

You Are HereGujrat
Sunday, February 02, 2014-4:50 PM

अहमदाबाद: भाजपा के प्रधानमंत्री पद के दावेदार नरेंद्र मोदी की गुजरात सरकार ने गांव में 11 रुपए और शहर में 17 रुपए कमाने वाले को अमीर बताकर एक नए विवाद को जन्म दे दिया है। इससे पहले केंद्र सरकार भी इस तरह कमाई के जरिए अमीरी का दायरा तय करने के मामले में अपने हाथ जला है।

राज्‍य सरकार पहले ही बीपीएल सूची तथा बायोमैट्रिक राशन कार्ड को लेकर विपक्ष के निशाने पर है। वही, अब राज्य सरकार ने खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की सप्लाई शाखा को बीते महीने एक लेटर में बताया कि राज्य के ग्रामीण इलाके में हर महीने 324 रुपए तथा शहरी इलाके में 501 रुपए से कम कमाने वाला ही गरीबी रेखा से नीचे माना जा सकता है। राज्य सरकार की इस बात से खासा बवाल मच गया है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You