निर्विरोध चुनाव कराने वाली पंचायतों को मिलेगा पांच लाख का पुरस्कार: शिवराज

  • निर्विरोध चुनाव कराने वाली पंचायतों को मिलेगा पांच लाख का पुरस्कार: शिवराज
You Are HereNational
Sunday, February 02, 2014-11:32 AM

सिवनी: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आगामी पंचायत चुनाव के दौरान निर्विरोध चुनाव सम्पन्न करने वाली ग्राम पंचायतों को पांच-पांच लाख रुपए का पुरुस्कार दिए जाने के साथ-साथ विकास कार्यों में मिलने वाली राशि में 25 प्रतिशत की बढ़ोतरी किए जाने की घोषणा की है। चौहान ने यहां जिला स्तरीय कृषि एवं अंत्योदय मेले का शुभारंभ करते हुए कहा कि पंचायत चुनाव के दौरान यह देखने में आता है कि अक्सर पंचायत के प्रतिनिधि दलगत राजनीति के कारण आपस में भिड़ जाते है ओर लड़ाई-झगड़े की स्थिति निर्मित हो जाती है।

 

उन्होंने कहा कि इन सब बातों को ध्यान में रखते हुए सरकार ने यह निर्णय लिया है कि प्रदेश की जिन ग्राम पंचायतों में निर्विरोध सरपंच व पंचों के चुनाव सम्पन्न होंगे। उन्हें राज्य सरकार द्वारा पांच लाख रुपए की राशि पुरुस्कार स्वरुप दी जाएगी। उन्होंने कहा कि इतना ही नहीं इन ग्राम पंचायतों को विकास कार्यों के लिए 25 प्रतिशत अधिक धनराशि भी उपलब्ध कराई जाएगी।

 

प्रदेश में कृषि को लाभ का धंधा बनाने के साथ-साथ उद्योगों की स्थापना के संकल्प को दोहराते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि उद्योग नीति में हमने यह तय कर दिया है कि भविष्य में खुलने वाले वृहद कारखानों में पचास प्रतिशत स्थानीय मजदूरों को रोजगार देना अनिवार्य होगा, जिसका अनुबंध राज्य सरकार व उद्योगपति के बीच होने वाले मसौदे में किया जाए गा। चौहान ने केन्द्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि प्रदेश सरकार ने अनेकों बार प्रधानमंत्री से प्राकृतिक आपदा (ओला एवं अतिवृष्टि) से खराब होने वाली फसलों के लिए मुआवजा राशि उपलब्ध कराने की मांग की गई, लेकिन एक रुपए भी केन्द्र सरकार ने प्रदेश सरकार को नहीं दिया।

 

उन्होंने कहा कि इसी प्रकार अनेक योजनाओं में भी मध्यप्रदेश के साथ भेदभाव किया जाता है। केन्द्र सरकार के सामने मध्यप्रदेश का नाम आते ही वे पैसा देने में अपना हाथ खींच लेते हैं। इसके बावजूद सरकार के द्वारा अपने बजट में 600 करोड़ रुपए का प्रावधान किसानों को मुआवजा दिये जाने हेतु किया गया है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You