खंडूरी ने साधा कांग्रेस पर निशाना, बोले- CM बदलने से नहीं सुधरेगी छवि

  • खंडूरी ने साधा कांग्रेस पर निशाना, बोले- CM बदलने से नहीं सुधरेगी छवि
You Are HereNational
Sunday, February 02, 2014-4:31 PM

नई दिल्ली: अन्ना हजारे के जनलोकपाल कानून के मसौदे के अनुरूप देश में सबसे पहले उत्तराखंड में इस पर अमल करने का दावा करते हुए भाजपा के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री भुवन चंद खंडूरी ने कहा है कि प्रदेश की कांग्रेस नीत सरकार ने उनके मजबूत विधेयक को निरस्त कर भ्रष्टाचारियों को बचाने वाला बेहद लचर एवं कमजोर लोकायुक्त विधेयक पेश किया है।

खंडूरी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पिछले 10 वर्षो के दौरान केंद्र में कांग्रेस का शासन भ्रष्टाचार से भरा रहा है और उत्तराखंड में मुख्यमंत्री (बहुगुणा के स्थान पर हरीश रावत) बदलने से छवि में कोई सुधार नहीं आने वाला है। दिल्ली में आम आदमी पार्टी के जनलोकपाल विधेयक पेश करने की रिपोर्ट के बारे में पूछे जाने पर पूर्व मुख्यमंत्री ने ‘भाषा’ से टेलीफोन पर कहा, ‘‘आम आदमी पार्टी ने अपने प्रस्तावित विधेयक का मसौदा जारी नहीं किया है। इसके तथ्यों के बारे में समग्र जानकारी नहीं है। पहले उन्हें विधेयक पेश करने दें।

हम उत्तराखंड में पहले ही अन्ना हजारे के मसौदे के मुताबिक मजबूत एवं सख्त विधेयक पेश कर चुके थे जिसे कांग्रेस सरकार ने निरस्त कर दिया है।’’ खंडूरी ने कहा कि कांग्रेस ने जो विधेयक पेश किया, वह पूरी तरह से फर्जी है। यह भ्रष्टाचारियों को बचाने वाला बेकार लोकायुक्त विधेयक है। खंडूरी ने कहा, ‘‘हमने काफी मजबूत और सख्त विधेयक पेश किया था। कांग्रेस सरकार इसके स्थान पर बेहर लचर, कमजोर और बेकार लोकायुक्त विधेयक लाई है।’’

यह पूछे जाने पर कि दिल्ली में आम आदमी पार्टी की सरकार का जन लोकपाल विधेयक इंदिरा गांधी इंडोर स्टेडियम में पारित करना क्या प्रचार पाने का तरीका है, खंडूरी ने कहा, ‘‘यह विषय पूरी तरह से विधायी प्रक्रिया का है। जो भी होगा, नियमों के तहत ही हो सकता है। इसे विधानसभा या किसी दूसरे स्थान पर पारित किया जा सकता है कि नहीं, यह नियमों के तहत ही तय हो सकता है।’’

उत्तराखंड में विजय बहुगुणा के स्थान पर हरीश रावत को मुख्यमंत्री बनाये जाने के बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, ‘‘वैसे तो यह पार्टी (कांग्रेस) का अंदरूनी मामला है लेकिन पिछले 10 वर्षो के दौरान केंद्र में कांग्रेस का शासन भ्रष्टाचार से भरा रहा है और उत्तराखंड में मुख्यमंत्री (बहुगुणा के स्थान पर हरीश रावत) बदलने से उसकी छवि में कोई सुधार नहीं आने वाला है।’’



 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You