राहुल की प्राइमरी का मकसद हाईकमान संस्कृति को खत्म करना है: माकन

  • राहुल की प्राइमरी का मकसद हाईकमान संस्कृति को खत्म करना है: माकन
You Are HereNational
Sunday, February 02, 2014-5:06 PM

नई दिल्ली: कांग्रेस के एक पदाधिकारी ने आज संकेत दिया कि राहुल गांधी का अमरीका प्राइमरी की तर्ज पर लोकसभा के 15 सीटों के लिए सीधे उम्मीदवार चुनने का प्रयोग का शुरूआती हिचक के बावजूद जारी रहेगा। कांग्रेस संवाद विभाग के अध्यक्ष अजय माकन ने चांदनी चौक और उत्तर पश्चिम दिल्ली की दो सीटों को इसके दायरे से बाहर निकालने के पार्टी के हाल के निर्णय को भी कोई खास तवज्जो नहीं दी। इन दोनों सीटों का क्रमश: केंद्रीय मंत्री कपिल सिब्बल और कृष्णा तीरथ प्रतिनिधित्व कर रही हैं।

उन्होंने जोर दिया कि नई प्रक्रिया कांग्रेस उपाध्यक्ष के हाईकमान संस्कृति को खत्म कर और जमीनी स्तर पर कार्यकत्र्ताओं को मजबूत बनाने की पहल की तर्ज पर है। माकन ने कहा, ‘‘जब निर्वाचित सांसदों के कोई विचार होते हैं और जब उन्होंने पूछा कि सात सीटों में दो को चुनने के क्या मापदंड हैं तब समान अवसर देने के पक्षधर कांग्रेस उपाध्यक्ष ने इससे सहमति व्यक्त की कि प्राइमरी के सीटों के चयन के लिए भी उपयुक्त प्रक्रिया होनी चाहिए।’’

समझा जाता है कि इन मंत्रियों ने शीर्ष नेतृत्व के समक्ष अपनी आपत्तियां पेश करते हुए आश्चर्य व्यक्त किया कि दिल्ली की सात लोकसभा सीटों में से उनकी सीटों को कैसे चुना गया। माकन ने कहा, ‘‘राहुल का प्राइमरी के माध्यम से उम्मीदवारों का चुनना प्रणाली को खोलने पर ध्यान देने की उनकी पहल के तहत है। वह पार्टी में निर्णय करने की हाईकमान संस्कृति को खत्म करना चाहते हैं।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You