....आखिर मिल ही गई मंत्री जी की भैंसें, बाघिन अभी भी फरार

  • ....आखिर मिल ही गई मंत्री जी की भैंसें, बाघिन अभी भी फरार
You Are HereNational
Monday, February 03, 2014-1:59 PM

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के कद्दावर मंत्री मो. आजम खां की भैंसों को तो पुलिस ने युद्धस्तर पर अभियान चलाकर खोज निकाला लेकिन आठ लोगों को अपना निवाला बनाने वाली बाघिन अभी भी फरार है।

खां की सात भैंसे दो दिन पहले रात में चोरों ने गायब कर दी थीं। रामपुर के पूरे पुलिस अमले ने पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में अभियान चलाकर भैंसों को कल देर रात खोज निकाला। भैंसों को खोजने में हीलाहवाली करने वाले एक दारोगा और दो सिपाहियों को लाइन हाजिर भी किया गया दूसरी ओर खां के गृह जिले रामपुर से सटे मुरादाबाद क्षेत्र में एक बाघिन करीब एक महीने से आतंक मचाये हुए है। आठ लोगों को वह अपना शिकार बना चुकी है लेकिन इसमें न तो किसी सरकारी मुलाजिम के खिलाफ कार्रवाई हुई और न ही भैंसों की बरामदगी की तरह अभियान ही चलाया गया।

भैंसों की बरामदगी के लिए आसपास के स्लाटर हाउसों की गहन छानबीन की गई। डॉग स्क्वायड, एल.आई.यू. एसओजी और क्राइम ब्रांच के साथ ही पुलिस अधीक्षक के नेतृत्व में पुलिस की तीन टीमें बनाई गई थीं और इन टीमों ने इस तरह भैंसों की खोज की जैसे किसी शातिर मुल्जिम की तलाश कर रहे हों।

भैंसों के मिल जाने से रामपुर की पुलिस ने भले ही राहत की सांस ली हो लेकिन मुरादाबाद और उसके आसपास के इलाके में बाघिन का खौफ अभी भी बरकरार है और लोग शाम होते ही घर में दुबकने को मजबूर हैं। मुरादाबाद के लोगों को कहते सुना जा रहा है कि काश उनके क्षेत्र में भी कोई खां जैसा मंत्री होता।

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You