हत्या के जुर्म में चार लोगों को उम्रकैद

  • हत्या के जुर्म में चार लोगों को उम्रकैद
You Are HereNational
Monday, February 03, 2014-5:25 PM

नई दिल्ली : दिल्ली की एक अदालत ने अपने पड़ोसी की हत्या के जुर्म में चार लोगों को उम्रकैद की सजा सुनायी है। अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश गुलशन कुमार ने हालांकि चार अभियुक्तों अशोक सिंह,  राजेश, अनिल और सोनू को मौत की सजा नहीं सुनायी क्योंकि अभियोजन उन्हें फांसी की सजा सुनाने के लिए कोई विशेष आधार बताने में नाकाम रहा, अदालत के अनुसार ' इस मामले में आरोपियों को मौत की सजा सुनाए जाने के संबंध में किसी विशेष आधार का जिक्र नहीं किया गया है।  इस मामले में जिस तरीके से अपराध को अंजाम दिया गया, उसे दुर्लभतम की श्रेणी में नहीं रखा जा सकता। इससे समाज में गलत संदेश जाएगा। आपने अपराध किया है।’

अदालत ने अभियुक्तों को सश्रम उम्र कैद की सजा सुनायी और उन पर 10-10 हजार रूपए का जुर्माना लगाया। अभियोजन के अनुसार आरोपी अशोक 14 नवंबर 2009 को 30 वर्षीय पीड़ित के घर गया था। इसके पहले अशोक ने पीडित को 10 हजार रूपए उधार दिए थे। अशोक ने उधार राशि के बदले पीड़ित से उसका मोबाइल फोन मांगा था। अभियोजन के अनुसार पीड़ित ने फोन देने से इंकार कर दिया और अशोक के साथ दुव्र्यवहार भी किया। घटना की रात अशोक और उसक तीन अन्य सहयोगी दक्षिण दिल्ली स्थित पीड़ित के फ्लैट में जबरन घुस गए और उसके साथ मारपीट की,  पुलिस ने अदालत में कहा था कि आरोपी लोगों ने पीड़ित को छूरे से मार डाला। आरोपियों ने अपने को बेगुनाह बताया और दया की अपील करते हुए कहा कि वे निर्धन परिवारों से आते हैं तथा उन्हें अपने परिवारों का ख्याल रखना है।
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You