अद्र्धसैनिक बल अब भर्ती प्रक्रिया में सीसीटीवी, आरएफआईडी टैग का इस्तेमाल करेंगे

  • अद्र्धसैनिक बल अब भर्ती प्रक्रिया में सीसीटीवी, आरएफआईडी टैग का इस्तेमाल करेंगे
You Are HereNational
Monday, February 03, 2014-5:51 PM

नई दिल्ली : देश में केंद्रीय अद्र्धसैनिक बलों में जवानों और अन्य कनिष्ठ स्तर के अधिकारियों की भर्ती प्रक्रिया में बदलाव होने जा रहा है और केंद्रीय गृह मंत्रालय ने इस प्रक्रिया में सीसीटीवी कैमरे और आरएफआईडी टैग जैसे उपकरणों का इस्तेमाल करते हुए पारदर्शिता लाने का फैसला किया है। मंत्रालय ने आने वाले सालों में पांच बड़े केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों- सीआरपीएफ, बीएसएफ, सीआईएसएफ, आईटीबीपी और एसएसबी में कांस्टेबलों, उप-निरीक्षकों और निरीक्षकों के स्तर पर हजारों महिलाओं और पुरुषों की भर्ती की योजना बनाई है।   

मंत्रालय इन बलों में आंतरिक सुरक्षा से संबंधित पदों पर भर्ती की चाह रखने वाले लोगों के सभी मानदंडों को हर समय इलैक्ट्रानिक तरीके से मापने के लिए ओएमआर शीटों, आरएफआईडी (रेडियो आवृत्ति पहचान) टैग और सीसीटीवी कैमरों की मदद लेगा। अद्र्धसैनिक बलों की संयुक्त समिति द्वारा तैयार और मंजूर किये गये प्रस्ताव के अनुसार भर्ती प्रक्रिया में बदलाव किया जा रहा है और इसे पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया (टीआरपी)कहा जाएगा। अभी तक इन बलों में भर्ती प्रक्रिया इन बलों के प्रशिक्षित अधिकारियों द्वारा की जाती थी। इस प्रक्रिया में उम्मीदवारों का ब्योरा और अन्य महत्वपूर्ण मानकों को दर्ज किया जाता है। एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार ' इन नये प्रौद्योगिकी आधारित बदलावों का उद्देश्य न केवल भर्ती प्रक्रिया में भ्रष्टाचार के मामलों को कम करना है बल्कि तकनीकी के इस्तेमाल से सर्वश्रेष्ठ प्रतिभाओं का चुनाव करना भी है।’
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You