महिला स्वयं सहायता समूहों मिलेगा कर्जे पर 1,400 करोड़ रपये की ब्याज सहायता

  • महिला स्वयं सहायता समूहों मिलेगा कर्जे पर 1,400 करोड़ रपये की ब्याज सहायता
You Are HereNational
Monday, February 03, 2014-7:48 PM
नई दिल्ली :  केंद्र सरकार ने महिला स्वयं सहायता समूहों द्वारा लिए गए कर्जे पर 1,400 करोड़ रपये की ब्याज सहायता देने की आज घोषणा की।
 
 लोकसभा चुनाव से पहले सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों की महिलाओं को लुभाने के लिए केंद्र के महत्वाकांक्षी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार मिशन के तहत महिला स्वयं सहायता समूहों को यह ब्याज सहायता प्रदान की कवायद सरकार ने की है।  
  
 ग्रामीण विकास मंत्री जयराम रमेश ने कहा कि यह सहायता उन महिलाओं को मिलेगा जिन्होंने 1 अप्रैल, 2013 से कर्ज लिया है। मंत्री ने कहा कि आज की तारीख से सभी बैंक 150 चुने हुए पिछड़े जिलों में महिला स्वयं सहायता समूहों को 3 लाख रपये तक का कर्ज 7 फीसद के ब्याज पर देंगे। 
 
 इनमें से ज्यादातर जिले नक्सल प्र्रभावित हैं। समय पर भुगतान के लिए इन एसएचजी को 3 प्रतिशत की और ब्याज सहायता मिलेगी। ऐसे में इस तरह के रिण पर प्रभावी ब्याज दर मात्र 4 प्रतिशत रहेगी। 
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You