नक्सल नेटवर्क पर काम रोक कर चर्चा

  • नक्सल नेटवर्क पर काम रोक कर चर्चा
You Are HereNational
Tuesday, February 04, 2014-8:56 AM

रायपुर: छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज राज्य में नक्सली नेटवर्क को लेकर काम रोककर चर्चा कराई गई। मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस ने इस दौरान आरोप लगाया कि बद्तर कानून व्यवस्था और लचर प्रशासनिक कार्यप्रणाली के कारण नक्सली समस्य विकराल रूप ले चुकी है। विपक्ष ने पूरे मामले की सीबीआई जांच की मांग की। राज्य के मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस के सदस्य सत्यनारायण शर्मा ने स्थगन पर चर्चा की शुरुआतत करते हुए कहा कि राज्य में कानून व्यवस्था की स्थिति अत्यंत दयनीय है। पुलिस का गुप्तचर विभाग नाकारा साबित हुआ है। नक्सली नेटवर्क राजधानी रायपुर से संचालित हो रहा है।

 

शर्मा ने कहा कि राज्य में नक्सलियों का नेटवर्क लगातार फैलता जा रहा है। राज्य की राजधानी में हथियार इधर से उधर ले जाने के लिए बकायदा कुरियर चेन तैयार हो गई है। जिंदा कारतूस, डेटोनेटर और दूसरे एक्सप्लोसिव ट्रेन के जरिए रायपुर लाया जा रहा है और नक्सलियों तक पहुंचाने का कार्य किया जा रहा है। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने आरोप लगाया कि नक्सलियों के इन शहरी एजेंटों में राज्य की सत्ताधारी भाजपा के पदाधिकारी भी शामिल हैं और राज्य के पूर्वमंत्री, सांसद और अन्य लोग भी शामिल हैं जिन्हें बचाने में सरकार लगी हुई है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You