‘मोदी की रैली के लिए कोलकाता पुलिस पर विश्वास नहीं’

  • ‘मोदी की रैली के लिए कोलकाता पुलिस पर विश्वास नहीं’
You Are HereNational
Tuesday, February 04, 2014-10:38 AM

कोलकाता: पश्चिम बंगाल भाजपा ने कोलकाता में आगामी पांच फरवरी को नरेंद्र मोदी की रैली के लिए राज्य और कोलकाता पुलिस द्वारा किए गए सुरक्षा इंतजामों पर चिंता जताते हुए कहा कि उसे पुलिस पर विश्वास नहीं है। प्रदेश भाजपा प्रमुख राहुल सिन्हा ने यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘हम राज्य पुलिस के साथ सहयोग कर रहे हैं लेकिन हमारा उस पर कोई विश्वास नहीं है। आज हवाई अड्डे पर राज्य, कोलकाता और गुजरात पुलिस अधिकारियों के बीच एक बैठक थी।

 

उस बैठक में हवाई अड्डे के अधिकारी और भाजपा के नेता भी मौजूद थे।’’ सिन्हा ने कहा कि अलग अलग दलों में गुजरात पुलिस के 100 से अधिक अधिकारी सुरक्षा इंतजामों का जायजा लेने के लिए राज्य का दौरा कर चुके हैं। इस बीच कोलकाता पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों ने आज रैली स्थल ब्रिगेड परेड ग्राउंड का दौरा किया। सिन्हा ने तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी की ‘‘दिल्ली चलो’’ आह्वान का उपहास उड़ाते हुए कहा कि उन्हें प्रधानमंत्री बनने का दिन में सपना देखना बंद करके उसकी बजाय उस काम पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए जो उनके हाथ में है।

 

उन्होंने कहा, ‘‘ममता बनर्जी अगला प्रधानमंत्री बनने का दिन में सपना देख रही हैं। उन्हें मुख्यमंत्री के तौर पर अपने कार्य पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए। तथाकथित संघीय मोर्चा के लिए अभी तक किसी ने भी समर्थन नहीं जताया है। जिन पार्टियों की वह बात कर रही हैं उनमें उनके प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार हैं’’ सिन्हा ने कहा कि प्रदेश पार्टी इकाई ने मोदी को ‘‘बोलने के चार सूत्रीय बिंदू’’ दिए हैं  जिसमें नेताजी सुभाष बोस की फाइलों को सार्वजनिक करना, भारत आने वाले बांग्लादेशी शरणार्थियों को नागरिकता, चिट फंट घोटाला और तृणमूल कांग्रेस द्वारा हिंसा शामिल है।

 

इस बीच कई नौकरशाह और पुलिस अधिकारी भाजपा में शामिल हो गए। भाजपा में शामिल होने वालों में पूर्व डीजी आर के हांडा और बीडी शर्मा के साथ ही जानेमाने बंगाली अभिनेता नीमू भौमिक शामिल हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You