किरण कुमार रेड्डी को कांग्रेस हाईकमान ने दिल्ली तलब किया

  • किरण कुमार रेड्डी को कांग्रेस हाईकमान ने दिल्ली तलब किया
You Are HereNational
Tuesday, February 04, 2014-3:41 PM

हैदराबाद: पृथक तेलंगाना राज्य के मसले की सरगर्मियों के बीच एकीकृत आंध्र प्रदेश की जोरदार वकालत कर रहे मुख्यमंत्री एन.किरण कुमार रेड्डी कांग्रेस आलाकमान के बुलावे पर आज यहां से दिल्ली के लिए रवाना हो गए। कांग्रेस आलाकमान ने राज्य विभाजन के मुद्दे पर केंद्र के फैसले को लेकर उच्चतम न्यायालय का रुख किए जाने संबंधी रेड्डी की मंशा को देखते हुए उन्हें बैठक के लिए दिल्ली पहुंचने का फरमान जारी किया है।

 

पार्टी सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस नेतृत्व ने मुख्यमंत्री सहित राज्य के दोनों क्षेत्रों के पार्टी सांसदो को बैठक में शामिल होने के निर्देश दिए हैं ताकि संसद के आगामी सत्र में प्रस्तुत किए जाने वाले तेलंगाना विधेयक पर पार्टी की रणनीति पर चर्चा की जा सके। हालांकि अभी यह स्पष्ट नहीं हो सका है कि क्या रेड्डी पार्टी आलाकमान की बैठक में हिस्सा लेंगे। सूत्रों के मुताबिक रेड्डी आज ही दोपहर दिल्ली स्थित आंध्र भवन में केंद्रीय मंत्रियों एवं सांसदो सहित सीमांध्र क्षेत्र के नेताओं से भी मिलेंगे।

 

वह कल सीमांध्र के नेताओं के साथ राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी से मुलाकात करेंगे। वह राष्ट्रपति को राज्य के दोनों सदनों में तेलंगाना विधेयक को खारिज किए जाने संबंधी पारित प्रस्ताव की जानकारी देते हुए संसद में संबंधित विधेयक पेश किए जाने के लिए केंद्र को अनुमति नहीं देने का आग्रह भी करेंगे। राष्ट्रपति से मुलाकात के बाद वे सभी राजघाट स्थित शक्ति स्थल में पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी को श्रद्धांजलि देने के बाद वहीं पर राज्य विभाजन के विरोध में प्रतीक स्वरूप धरने पर बैठेंगे।

 

पार्टी सूत्रों ने जानकारी दी कि इस बीच पृथक तेलंगाना राज्य समर्थक नेताओं ने भी दिल्ली में आज राष्ट्रीय नेताओं से मुलाकात कर उनके समक्ष अपना पक्ष रखा। तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) प्रमुख के चंद्रशेखर राव की अगुवाई में एक प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से सुबह मुलाकात की। राव ने प्रधानमंत्री से तेलंगाना राज्य गठन की प्रक्रिया में तेजी लाए जाने का आग्रह किया। इसी के साथ ही तेलुगु देशम पार्टी अध्यक्ष एन. चंद्रबाबू नायडू ने भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी से मुलाकात कर इस संदर्भ में चर्चा की।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You