ममता के राज में महिलाएं असुरक्षित: वृंदा कारात

  • ममता के राज में महिलाएं असुरक्षित: वृंदा कारात
You Are HereNational
Tuesday, February 04, 2014-5:39 PM

रांची: माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी की पोलित ब्यूरो सदस्य वृंदा कारात ने आज यहां आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पूरी तरह ‘जुल्मी’ हो गयी हैं और उनके राज्य में महिलाओं की सुरक्षा खतरे में है। माकपा नेता वृंदा कारात ने आज यहां एक संवाददाता सम्मेलन में यह आरोप लगाये और कहा कि महिलाओं पर अत्याचार के उपर महिला लेखिका जसोधरा बागची की लिखी पुस्तक के विमोचन कार्यक्रम को जिस तरह कल कोलकाता में एकाएक कथित तौर पर ममता के दबाव में रद्द किया गया वह ‘जुल्म’ की निशानी है।

उन्होंने ममता के शासन को अत्याचारपूर्ण और महिला विरोधी बताया। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार कोलकाता पुस्तक मेला में कल बागची के पुस्तक के विमोचन को एकाएक रद्द किया वैसा पश्चिम बंगाल में कभी नहीं हुआ। यह बुद्धिजीवियों के विचार प्रवाह के दमन का प्रयास है और इसे जनता कभी नहीं सहन करेगी। उन्होंने दावा किया कि यदि पश्चिम बंगाल में आज निष्पक्ष ढंग से चुनाव करा दिये जायें तो जनता ममता को सत्ता से बाहर कर देगी। वृंदा ने इस घटना को तो अलोकतांत्रिक बताया लेकिन उन्होंने इसकी तुलना तस्लीमा नसरीन और सलमान रुश्दी की किताबों पर लगाये गये प्रतिबंध और उनकी यात्राओं पर प्रतिबंध लगाये जाने से करने से इनकार कर दिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You