यूपी: वैश्यावृत्ति के धंधे ने पसारे पांव

  • यूपी: वैश्यावृत्ति के धंधे ने पसारे पांव
You Are HereNational
Tuesday, February 04, 2014-6:41 PM

सहारनपुर: रेलवे स्टेशन परिसर व इसके इर्द-गिर्द वैश्यावृत्ति के धंधे ने पांव पसार लिये है। वैश्यावृत्ति का धंधा फलने फूलने से स्टेशन परिसर व बस स्टैडों के समीप बने होटलो व ढाबों की भी चांदी पिस रही है। यह धंधा पुलिस को भी हड्डी का मजा दे रहा है। दिन या रात का कोई भी समय हो रेलवे स्टेशन के इर्द-गिर्द धंधे में संलिप्त युवतियां व महिलाएं अपना जाल बिछाये रहती हैं और शिकार की तलाश में रहती है। धंधे में संलिप्त युवतियों व महिलाओं का रेट भी निर्धारित रहता है। कोई नया शिकार फसने पर ये अनाप शनाप पैसे भी वसूलती है। आमतौर पर इन युवतियों व महिलाओं का शिकार रेल यात्री बनते है। उक्त युवतियां व महिलाए अपने शिकार को फसाकर रेलवे स्टेशन, बस स्टैडो के इर्द-गिर्द स्थित होटलो में ले जाती है और होटल वाले भी आधे या एक घंटे का कमरा देने के लिए इनसे दो से लेकर पांच सौ रुपये तक लेते है।

ऐसा नहीं है कि पुलिस को इस धंधे का पता नहीं है, बल्कि पुलिस की मिली भगत से ही यह धंधा फल और फूल रहा है। इस धंधे को चलाने वाले होटलो व ढाबों से पुलिस अवैध वसूली कर रही है। पुलिस का संरक्षण होने के कारण न तो पुलिस वैश्यावृत्ति धंधे में संलिप्त युवतियों व महिलाओं पर हाथ डालती है और न ही कभी होटलों व ढाबों पर छापामारी की जाती है, जिसके चलते यह धंधा खुलेआम धड़ल्ले से चल रहा है। दोनों बस स्टैड, घंटाघर चौक, रेलवे स्टेशन परिसर व रेलवे स्टेशन के इर्द-गिर्द का क्षेत्र धंधे में संलिप्त युवतियों व महिलाओं का केन्द्र बना है। उक्त क्षेत्रों में किसी भी समय उक्त युवतियां व महिलाएं अपना शिकार तलाशते नजर आ जाती हैं।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You