जगन को अदालत में व्यक्तिगत पेशी से नहीं मिलेगी छूट, याचिका खारिज

  • जगन को अदालत में व्यक्तिगत पेशी से नहीं मिलेगी छूट, याचिका खारिज
You Are HereNational
Wednesday, February 05, 2014-8:56 AM

हैदराबाद: सीबीआई की एक विशेष अदालत ने आज वाईएसआर कांग्रेस के प्रमुख वाई एस जगनमोहन रेड्डी की वह अर्जी खारिज कर दी जिसमें उन्होंने अपनी कंपनियों की संलिप्तता वाले लेन-देन के कथित निवेश के मामले की सुनवाई के दौरान व्यक्तिगत तौर पर पेश होने से छूट मांगी थी। इस मामले में जगन मुख्य आरोपी हैं। दोनों पक्षों को सुनने के बाद अदालत ने आज के लिए अपना आदेश सुरक्षित रख लिया था।

जगन के वकील अशोक रेड्डी ने कहा कि अपना आदेश पारित करते हुए अदालत ने कहा, 'किसी आर्थिक अपराध के मामले का आरोपी मुकदमे की कार्यवाही के दौरान व्यक्तिगत पेशी से छूट का हकदार नहीं है।'
 
जगन की याचिका का विरोध करते हुए सीबीआई के वकील ने दलील दी कि वाईएसआर कांग्रेस प्रमुख के खिलाफ आपराधिक मामला प्रतिदिन के आधार पर आगे बढ़ेगा और यदि अदालत में पेशी से उन्हें छूट मिलती है तो सुनवाई की प्रक्रिया खतरे में पड़ सकती है ।

इसके अलावा, अभियोजन पक्ष ने कहा कि छूट तभी दी जा सकती है जब आरोप तय हो चुके हों और इसलिए यदि अभी याचिकाकर्ता को पेशी से छूट दी जाती है तो इस बात की आशंका है कि सुनवाई में देरी हो जाए।

बहरहाल, बचाव पक्ष ने दलील दी कि एक राजनीतिक दल के अध्यक्ष और कडप्पा के सांसद होने के नाते जगन को च्समैख्य आंध्र प्रदेशज् यात्रा और उनकी 'ओडारपू यात्रा' के हिस्से के तौर पर विभिन्न जगहों का दौरा करना पड़ता है। जगन पिछले साल 24 सितंबर को जमानत पर रिहा किए गए थे।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You