हेलीकाप्टर घोटाले को लेकर एंटनी ने फिर दी संसद में सफाई

  • हेलीकाप्टर घोटाले को लेकर एंटनी ने फिर दी संसद में सफाई
You Are HereNational
Wednesday, February 05, 2014-3:56 PM

नई दिल्ली: रक्षा मंत्री ए के एंटनी ने आज राज्यसभा में स्वीकार किया कि वीवीआईपी हेलीकाप्टर सौदे में दलाली के आरोपों को लेकर इटली की अदालत में चल रही सुनवाई के दौरान कुछ भारतीय नेताओं को प्रलोभन देने के लिए निशाना बनाने की बात कही गई है।  अगुस्टा वेस्टलैंड से हुए 12 हेलीकाप्टरों के सौदे में 360 करोड रुपये की दलाली के आरोपों को लेकर एंटनी ने बताया कि यह सौदा एक जनवरी को रद्द किया जा चुका है और क्योंकि कंपनी ने इसके अनुबंध और उससे पहले किए गए साख समझौते का उल्लंघन किया था।

इस सौदे के लिए कंपनी द्वारा दी गई बैंक गारंटी को भुनाने की ह्नरक्रिया चल रही है। एंटनी ने कहा कि इटली की अदालत में एक कागज भी पेश किया गया जिसमें कुछ कूट भाषा में एएफ. बीयूआर. पोल इसके नीचे लिखा है एपी.. तथा फैम जैसे शीर्षक लिखे गए हैं। सुनवाई के दौरान इटली के सरकारी वकील ने सौदे के दलाल गोइदो हास्के से पूछा कि फैम का मतलब क्या है तो उसने कहा कि फैम का मतलब फैमिली से है और यह त्यागी ब्रदर्स के लिए कहा गया है।

लेकिन हास्के ने इस बात का जवाब नहीं दिया कि एपी का मतलब क्या है। इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट में इशारा किया गया था कि यह एपी कूट वाक्य कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल के लिए किया गया।  एंटनी ने माना कि एक अन्य दस्तावेज है जो कुछ भारतीय नेताओं को उच्चायुक्त द्वारा निशाना बनाए जाने के लिए पीट ह्यूलेट का ध्यान आकॢषत करते हुए माइकल क्रिस्टियन द्वारा लिखा हुआ माना जाता है।

लेकिन एंटनी ने कहा कि इन दस्तावेजों की प्रामाणिकता अभी साबित नहीं हुई है।  फिनमैकानिका की सहायक कंपनी अगुस्टा वेस्टलैंड के साथ हुए सौदे में इटली की सरकार ने कंपनी के कई बडे अधिकारियों को भ्रष्टाचार के आरोप में गिरफ्तार किया हुआ है। भारत में इस सौदे की जांच सीबीआई कर रही है और पूर्व वायु सेना प्रमुख एयरचीफ मार्शल एस पी त्यागी समेत 18 व्यक्तियों एवं कंपनियों के खिलाफ मामला दर्ज किया जा चुका है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You