रास सदस्यों की औसत दौलत 45 करोड़

  • रास सदस्यों की औसत दौलत 45 करोड़
You Are HereNational
Thursday, February 06, 2014-12:13 AM

नई दिल्ली : राज्यसभा के लिए चुने जाने वाले 55 सांसदों में से कम से कम 10 पर क्रिमिनल केस का दाग रहेगा। एक रिपोर्ट के मुताबिक 59 कैंडिडेट में 14 पर आपराधिक मामले दर्ज हैं। 16 राज्यों की 55 राज्यसभा सीटों के लिए चुनाव हो रहा है।

14 क्रिमिनल केस वाले उम्मीदवारों में 2 पर हत्या, अपहरण और महिलाओं के खिलाफ हिंसा के गंभीर मामले भी हैं। महाराष्ट्र से शिवसेना के कैंडिडेट धूत राजकुमार पर मर्डर का मामला दर्ज है।

नैशनल इलेक्शन वाच और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म ने कैंडिडेट की जानकारियों का विश्लेषण करते हुए कहा है कि कांग्रेस ने तीन, बीजेपी ने चार, एआईएडीएमके ने दो और जेडीयू व सीपीएम ने एक-एक दागी कैंडिडेट को मैदान में उतारा है। हालांकि यह विश्लेषण 59 में से 58 कैंडिडेट का ही किया गया है।  दौलत की बात करें तो 58 में से 50 करोड़पति हैं।


लेकिन इससे भी चौंकाने वाली बात है कि जनता की प्रतिनिधि बनने वाले 58 कैंडिडेट का औसत संपत्ति 44.75 करोड़ है। इसमें बीजेपी कैंडिडेट का औसत सबसे अधिक करीब 85 करोड़ रुपए है जबकि कांग्रेस आधे पर ही है। कांग्रेस के राज्यसभा कैंडिडेट का औसत संपत्ति 42.32 करोड़ रुपए ही है। इस बार राज्यसभा के लिए सिर्फ 12 फीसदी महिला कैंडिडेट को जगह दिया गया है। 58 में से सात महिलाएं हैं। जबकि सबसे अधिक संपत्ति बढ़ाने वाले कांग्रेस के टी सुब्बारामी रेड्डी हैं जिन्होंने छह साल में 164 करोड़ रुपए की बढ़ोतरी की है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You